‘ऑपरेशन म्यांमार’ पर पर्रिकर बोले- हम कार्रवाई के लिए दूसरों पर निर्भर नहीं रह सकते

म्यांमार की धरती पर उग्रवादियों के खिलाफ हुए भारतीय सेना के ऑपरेशन पर पहली बार केंद्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने बयान दिया है. पर्रिकर ने दिल्ली में एक कार्यक्रम में कहा, हम उग्रवादियों पर कार्रवाई के लिए दूसरों पर निर्भर नहीं रह सकते.

भारतीय दावे पर सवाल खड़ा कर चुका है म्यांमार

भारतीय सेना के इस ऑपरेशन पर म्यांमार ने भी सवाल खड़े किए है. भारत की ओर से पहले दावा किया गया था कि भारतीय सुरक्षा बलों ने म्यांमार की सीमा में घुसकर उग्रवादियों का सफाया किया. लेकिन म्यांमार ने इस बात से इनकार किया है कि भारत के सुरक्षा बलों ने उसकी सीमा के भीतर आकर उग्रवादियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया. ऐसे में रक्षा मंत्री का ये कहना कि हम उग्रवादियों पर कार्रवाई के लिए दूसरों पर निर्भर नहीं रह सकते अपने आप में कई सवाल खड़े करता है.

सेना की कार्रवाई से मनोबल बढ़ा

रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि सेना की कार्रवाई से मनोबल बढ़ा है. उन्होंने कहा, ‘उग्रवादियों के खिलाफ इस साधारण कार्रवाई से देश में पूरी सुरक्षा को लेकर सोच में बदलाव हुआ है. यह सुरक्षा से जुड़ा संवेदनशील मामला है इसलिए मैं विस्तार से इसके बारे में नहीं बता रहा.’

सोचने का नजरिया बदलेगा

पर्रिकर ने कहा, ‘सोच में बदलाव से आप बहुत सारी चीजें बदल सकते हैं. इससे हमारे सोचने का पैटर्न बदलेगा और बहुत सारी चीजों में बदलाव होगा.’