टेल्को यूनियन में विपक्ष ने बढ़ाया दबदबा

जमशेदपुर : टेल्को यूनियन चुनाव में मिली शिकस्त के बाद विपक्षी खेमा काफी गंभीर हो गई है। वह आपसी एकता को मजबूत रखते हुए पूरी सूबबुझ के साथ कदम बढ़ा रहा है। सत्तापक्ष पर दबाव का राजनीति बनाते हुए विपक्षी खेमा यूनियन कार्यालय के हॉल में हीं अलग से बैठक कर रहा है। शनिवार को यूनियन के पूर्व महामंत्री चंद्रभान प्रसाद के आवास पर बैठक होनी है तो यूनियन कार्यालय में प्रतिदिन अपराह्न ग्यारह से दोपहर बारह बजे तक बैठक करने पर सहमति बन गई है। सोमवार को चंद्रभान प्रसाद की अध्यक्षता में एक बैठक हुई, जिसमें तीन दर्जन से ज्यादा कमेटी मेंबर शामिल हुए। टीम भावना से काम करते हुए कर्मचारियों की समस्याओं को सुलझाने, सत्ता पक्ष के नाकामियों को मजदूरों तक पहुंचाने व उसके अच्छे कार्यो में सहयोग करने की बात कही गई। चंद्रभान प्रसाद ने कहा कि आने वाले दिनों में कर्मचारियों के बोनस पर समझौता होना है, अगर सत्ता पक्ष उनसे इस मामले में सहयोग मांगेगा तो उनकी पूरी टीम कर्मचारी हित में मदद करने को तैयार हैं। बैठक में चंद्रभान प्रसाद के अलावा पूर्व कोषाध्यक्ष शमशेर खां, पूर्व सहायक सचिव संतोष सिंह, सतीश मिश्रा, एचएस सैनी, यशपाल सिंह, टुकर सिंह समेत कई मुख्य रूप से उपस्थित थे।
देर सही लेकिन समझौता दुरुस्त होगा : महामंत्री
जहां सभी कंपनियों में बोनस वार्ता शुरू हो गई है, मांग पत्र सौंपा जा चुका है वहां टाटा मोटर्स में अभी सुगबुगाहट ही शुरू हुई है। बोनस पर वार्ता शुरू कब होगी, कब तक समझौता होगा, इस सवाल का जवाब देते हुए टेल्को वर्कर्स यूनियन के महामंत्री प्रकाश कुमार ने कहा कि देर सही लेकिन समझौता दुरुस्त होगा। हम बेहतर बोनस दिलाने का काम करेंगे। बैलेंस सीट व ऑडिट रिपोर्ट मिलने के बाद उसका अध्ययन किया जाएगा फिर उस आधार पर कंपनी प्रबंधन के साथ वार्ता शुरू होगी। प्रकाश ने कहा कि बहुत जल्द प्रबंधन के साथ उनकी वार्ता होगी। समय रहते बेहतर बोनस कराने का काम होगा।