बालू परिवहन होगा पुलिस चेकिंग से मुक्त

रांचीअब राज्य के खनन पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी सुनिश्चित करेंगे कि बालू का अवैध खनन तथा परिवहन न होए राज्य सरकार ने बालू के परिवहन को पुलिस चेकिंग से मुक्त कर दिया हैण् अब राज्य एवं जिला स्तर पर टास्क फ़ोर्स बनाकर चेकिंग का काम किया जायेगाण् उक्त बातें राज्य सरकार की प्रवक्ता निधि खरे ने सूचना भवन सभागार में आज आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहीण्  बालू परिवहन होगा पुलिस चेकिंग से मुक्त रांचीरू अब राज्य के खनन पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी सुनिश्चित करेंगे कि बालू का अवैध खनन तथा परिवहन न होए राज्य सरकार ने बालू के परिवहन को पुलिस चेकिंग से मुक्त कर दिया हैण् अब राज्य एवं जिला स्तर पर टास्क फ़ोर्स बनाकर चेकिंग का काम किया जायेगाण् उक्त बातें राज्य सरकार की प्रवक्ता निधि खरे ने सूचना भवन सभागार में आज आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहीण्  उन्होंने कहा कि खनन विभाग के अधिकारी तकनीकी तौर पर उपदमे ंदक उपदमतंसे एक्ट की जानकारी रखते हैंए इसलिए वो प्रभावी तरीके से अवैध बालू उत्खनन एवं परिवहन को रोक पाएंगे द्य उन्होंने कहा कि कई जगहों से ऐसी शिकायत भी मिली थी कि बालू माफिया और स्थानीय पुलिस की मिली भगत से बालू को बाहर भेजने का काम किया जा रहा था द्य इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने यह फैसला लिया हैण् खनन एवं अनुमंडल पदाधिकारी अब समय. समय पर खुद छापेमारी करेंगेए जिसके लिए उन्हें पर्याप्त पुलिस बल उपलब्ध कराया जाएगाण् हमें पर्यावरण की रक्षा के साथ ही विकास का काम भी करना हैए जिसके लिए बालू के बाहर भेजे जाने पर रोकथाम ज़रूरी हैण्  श्रीमती निधि खरे ने बताया कि झारखण्ड प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन की ओर तेज़ी से बढ़ रहा हैण् झारखण्ड के दो जिले रामगढ़ एवं लोहरदगा खुले में शौच से मुक्त हो गये हैंण् साथ ही ओडीएफ होने के मामले में भी राष्ट्रीय औसत की ओर प्रदेश तेज़ी से बढ़ रहा है द्य पिछले वर्ष जहां झारखण्ड राष्ट्रीय औसत से 17 प्रतिशत पीछे थाए अब मात्र 7 प्रतिशत पीछे रह गया हैण् उन्होंने कहा कि जिस तेज़ी से झारखण्ड इस मिशन को पूरा करने के लिए आगे बढ़ रहा हैए उसके हिसाब से वर्ष 2018 तक हम इस लक्ष्य को ज़रूर प्राप्त कर लेंगेण् वर्तमान में राज्य के 46 प्रखंड केए 903 ग्राम पंचायतें एवं 7669 राजस्व ग्राम खुले में शौच से मुक्त हो चुके हैंण् वहीँ 2 अक्टूबर 2017 तक 75 प्रखंड खुले में शौच से मुक्त हो जाएंगेण् इस तरह देखा जाये तो झारखण्ड में शौचालय निर्माण की गति राष्ट्रीय औसत से भी ज्यादा है द्य श्रीमती खरे ने बताया कि लाभुकों को शौचालय निर्माण की राशि अब डीबीटी के माध्यम से सीधे उनके खातों में भेजी जायेगी द्य स्वच्छता मिशन को सफल बनाने के लिए स्कूलों में हैंड वाशिंग सिस्टम ;भ्ंदक ॅंेीपदह ैलेजमउद्धलगाया जाएगाए जिससे बच्चों में हाथ धोने के प्रति जागरूकता आयेण् स्वच्छ भारत मिशन के क्रियान्वयन में राज्य सरकार ने करीब 4 लाख महिलाओं की भागीदारी को सुनिश्चित किया हैण् राज्य सरकार ने नवगठित पंचायत सचिवालय के स्वयंसेवकों को स्वच्छता दूत के रूप में प्रशिक्षण देकर स्वच्छ भारत मिशन से जोड़ा हैण् वैसे ग्राम पंचायतध् प्रखंड जो खुले में शौच से मुक्त हो चुके हैंए उन्हें प्राथमिकता के आधार पर उज्ज्वला योजना का लाभ दिया जा रहा हैण्    संवाददाता सम्मेलन में मुख्य रुप से प्रधान सचिव पेयजल एवं स्वच्छता विभाग श्री ए पी सिंह राजेश शर्मा निदेशक स्वच्छ भारत मिशन खान आयुक्त श्री अबुबकर सिद्धिकी निदेशक सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग श्री रामलखन गुप्ता उपस्थित थे।