बॉक्साइट माइंस रैयत मजदूर समिति की बैठक संपन्न

बसंत कुमार गुप्ता

गुमला.बॉक्साइट माइंस रैयत मजदूर घाघरा- बिशुनपुर प्रखंड समिति के पदाधिकारियों की संयुक्त बैठक माइंस क्षेत्र की समस्या को लेकर जिला अध्यक्ष प्रकाश उरांव की अध्यक्षता में घाघरा में संपन्न हुई । बैठक में मुख्य अतिथि झारखंड नवनिर्माण दल के केंद्रीय संयोजक विजय सिंह ने कहा कि हेमंत सरकार गुमला -लोहरदगा के सीमांत पर अल्युमिनियम कारखाना लगाकर रोजगार दिलायें तभी पलायन व मानव तस्करी का दंश झेल रहे स्थानीय बेरोजगार युवक-युवतियों का पलायन रुकेगा। श्री सिंह ने यह भी कहा कि माइंस से करोड़ों रुपए कमाने वाले हिंडालको व अन्य कंपनियां लॉकडाउन के दौरान गरीब व मजदूरों को भोजन की व्यवस्था तो दूर शुद्ध पानी तक नहीं पिलायी, उन्होंने बॉक्साइट माइन्स क्षेत्र की बदहाली पर बोलते हुए कहा कि माइंस संचालन के 40 साल बाद भी हिंडालको कंपनी शिक्षा, स्वास्थ ,सिंचाई व सड़क जैसी बुनियादी सुविधा बहाल तो नहीं ही की वहीं झरने का पानी पीने को विवश जंगल में रहने वाले गरीबों को शुद्ध पीने का पानी ही उपलब्ध नहीं करा पायी है । श्री सिंह ने माइंस क्षेत्र से लेकर भारतीय खान ब्यूरो व सरकार तक माइंस क्षेत्र की जनता की आवाज को ले जाने की तैयारी करने की अपील समिति के पदाधिकारियों से की है।
समिति के अध्यक्ष प्रकाश उरांव ने कहा कि घाघरा प्रखंड के इटकिरी से लेकर से सेरेंगदाग एवं गुरदरी, कुजाम माइंस इलाके की जर्जर सड़क हिंडालको का विकास की दवा का पोल खोल रहा है । झारखंड नवनिर्माण दल के गुमला जिला अध्यक्ष महेंद्र उरांव ने कहा कि माइंस क्षेत्र की जनता का भलाई के लिए झारखंड नवनिर्माण दल पूरे दल बल के साथ आंदोलन में भाग लेगी। बैठक में बॉक्साइट माइन्स क्षेत्र की समस्या को लेकर 26 जून 2020 को गुमला डीसी से मुलाकात कर मांग पत्र सौंपने, समिति की मजबूती के लिए बॉक्साइट माइन्स क्षेत्र में रैयत व मजदूरों के बीच सदस्यता अभियान चलाने तथा मांगों पर सकारात्मक पहल सरकार व जिला प्रशासन की ओर से नहीं होने की स्थिति में 2 जुलाई 2020 को न्याय दो नारे के साथ घाघरा प्रखंड मुख्यालय में समिति के लोग प्रदर्शन करेंगे। बैठक में समिति के सचिव आदित्य सिंह, झानद के जिला अध्यक्ष महेंद्र उराँव, महिला नेत्री पुष्पा पन्ना ,रामप्यार तुरी, किसान नेता शिवप्रसाद साहू व राज कुमार मुख्य रूप से उपस्थित थे।