स्वामी विवेकानंद की 119 वीं पुण्यतिथि मनाई गई

पतरातु : पतरातु पीटीपीएस में स्वामी विवेकानंद का 119 वी पुण्यतिथि स्वामी विवेकानंद स्मारक समिति के तत्वधान में मनाई गई।जिसकी अध्यक्षता स्मारक समिति के अध्यक्ष किशोर कुमार महतो संचालन मुखिया राजू कुमार के द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित हमारे क्षेत्र के जिला पार्षद डोली देवी तथा प्रखंड विकास पदाधिकारी देवदत्त पाठक मुखिया राहुल कुमार मुख्य रूप से उपस्थित हुए। साथ ही जिला पार्षद डोली देवी ने कहा
भारत के एक ऐसे महापुरुष स्वामी विवेकानंद का निर्वाण दिवस है जो युवाओं के प्रेरणास्रोत और दुनिया में हिन्दुत्व और सनातन धर्म का डंका बजा कर भारत के स्वाभिमान को स्थापित करने वाले युवा सन्यासी को कोटि कोटि नमन करते हुए विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। प्रखंड विकास पदाधिकारी देवदत्त पाठक ने कहा की सच ही कहा गया है — आँखों में वैभव के सपने मन में तूफानों सी गति हो । ऐसे ही हृदय में उठते हुए ज्वार , हृदय परिवर्तन की ललक , अदम्य साहस व संघर्ष और जाग्रत संकल्प को पूर्ण करने की चाहत का नाम युवा शक्ति है । स्वामी विवेकानंद ने युवाओं को संदेश दिया — भारत के भाग्यशाली युवा अपने महान कर्तव्य को पहचानो । मैं तुम्हारे महान बनने की कामना करता हूँ । विश्व ने भी अपना विश्वास तुम्हारे ऊपर जताया है । बड़े बुजुर्ग भी तुमसे बहुत उम्मीद रखते हैं । भारत के उज्जवल भविष्य में हमारी युवा शक्ति का विशेष योगदान है । स्वामी विवेकानंद स्मारक समिति के अध्यक्ष किशोर कुमार महतो ने कहा की भारत में संस्कृत और प्रतिष्ठा दोनों एक साथ चलते हैं ।हिन्दू होने का एक नसैर्गिक मान्यता है कि जीवन अमर है । भले ही मनुष्य का जीवन काल कम हो सकता है लेकिन आत्मा अजर अमर है । सृष्टि जगत में जीवन है तो मृत्यु भी निश्चित है । अतः हम सब को समाज , राष्ट्र व हिन्दुत्व के लिए बड़े आदर्श लेकर चलना चाहिए और इसी में अपना सम्पूर्ण जीवन व्यतीत कर देना चाहिए । यही हमारा दृढ़ संकल्प हो । यदि वेद या धर्मशास्त्रों की बात करें तो वह हिंदुत्व की प्राण है । धर्म हमारे जीवन जीने का आधार है । हमारे जीवन के आराध्य ईश्वर मानव जाति के मार्गदर्शक है जो जीवों के जन्म और मुक्ति प्रदान करने के लिए बार बार आते हैं । आराध्य देव ईश्वर हमें आशीर्वाद दें और हम सभी को अपने लक्ष्यों व उद्देश्यों की पूर्ति के लिए हमेशा शक्ति प्रदान करें । आज के इस महान अवसर पर हम सब को संकल्प लेना चाहिए कि हिंदू समाज छोटी छोटी बातों , जातियों और उपजातियों में बंटकर निजी स्वार्थों के लिए मतभेद न करते हुए बल्कि हिन्दू समाज को एकजुट होकर हिन्दुत्व विचारधारा को मजबूत करने की जरूरत है । इसी आशा , अपेक्षा और उम्मीद के साथ स्वामी विवेकानंद जी के विचारों को आत्मसात कर पुनः स्वामी जी के श्री चरणों में श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं । स्वामी विवेकानंद अमर रहें । कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित समिति के स्वयंसेवी संस्था सानिध्य के सचिव अमित कुमार सिंह, राहुल कुमार सिंह, संजय कुमार सिंह, गणेश कुमार ठाकुर, महावीर अग्रवाल, निर्मल जैन, अमित कुमार गुप्ता, बजरंग कुमार, रणधीर गव गवकुमार कपूर, शंभू प्रसाद वर्मा, गोविंद महतो, मनीष कुमार, पंकज कुमार महतो ,पारस कुमार महतो, विजय सिंह, नरेश महतो, इत्यादि लोग मुख्य रूप से उपस्थित थे।