शादी के 14 दिन बाद युवक की मौत, नवविवाहिता का रो-रोकर हुआ बुरा हाल

पलामू से सुधीर कुमार गुप्ता की रिपोर्ट

मेदिनीनगर:एक घर में 14 दिन पहले इकलौटे बेटे की शादी हुई।और कुछ ही दिन के बाद खुशियों को मातम में बदल दिया। मामला सदर थाना के नावहाता मुहल्ला के श्रीमन कुमार राय (33) की रांची के एक अस्पताल में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। दरअसल मामला हैं कि श्रीमन कुमार राय कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके थे पर उनके फेफड़े में इंफेक्शन हो गया था। और 10 मई को रांची में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गया।इधर उनकी माैत की सूचना आई। और इस घटना के बाद नवविवाहिता का रो-रोकर बुरा हाल है। नावहाता मुहल्ला के रहने वाले सहजानन्द राय के बेटे श्रीमन कुमार राय (33) की मौत के बाद दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। चार बहनों के बीच श्रीमन एक हिबभाई थे।और कुमार राय रांची के नामकुम में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद में प्रोजेक्ट असिस्टेंट के पद पर कार्यरत थे। और उनकी शादी पिछले 30 अप्रैल को आरा (बिहार) में उमेश पांडेय की बेटी रिकम पांडेय से हुई थी।और शादी के बाद श्रीमन की तबियत अचानक बिगड़ने लगी। और बुखार नहीं छूटने के कारण कोरोना जांच हुआ। रिपोर्ट पॉजिटिव होने पर 5 मई को उन्हें एमएमसीएच में इलाज के लिए भर्ती किया गया। श्रीमन के पिता सहजानंद राय ने बताया कि इलाज होने पर उनके बेटे की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई। लेकिन लंग्स में इंफेक्शन होने के कारण सांस लेने में समस्या हो रही थी। इसलिए 10 मई को रांची के निजी हॉस्पिटल में उन्हें इलाज के लिए फिर से ले जाया गया। लेकिन शुक्रवार की शाम उनकी मौत की खबर उनके बुजुर्ग पिता को मिली।