बुडसेरा गांव में चला बाल अधिकार संरक्षण जागरूकता अभियान

‘गांवों मे बढ़ता बाल दुर्व्यापार ‘

बोकारो: आज बाल अधिकार सरंक्षण जागरूकता अभियान कार्यक्रम निदेशक डॉ प्रभाकर कुमार के अगुवाई में बुडसेरा गांव मे आर प्रसाद शैक्षणिक संस्थान बोकारो के निदेशक मुकेश कुमार के सहयोग से सुबह 9 बजे से पूर्व तक मे किया गया ।
डॉ प्रभाकर कुमार ने बच्चों के अधिकारों की चर्चा करते हुए बतलाया कि ग्रामीण इलाकों से बच्चों का दुर्व्यापार दलालों के माध्यम से लगातार किया जा रहा है । बच्चों के माता पिता अभिभावकों को विभिन्न प्रलोभनों को दिखलाकर गांव के बच्चों को बड़े शहरों की ओर पलायन करवाया जा रहा है । गांव के लोकल एजेंट्स की भूमिका में हैं । लॉक डाउन मे भी बच्चों में गुमशुदा हो जाने की खबरें मिलती रही है । कहीं न कहीं यह बाल दुर्व्यापार की तरफ इशारा करती है ।
डॉ प्रभाकर कुमार ने समुदायों से कहा कि इस तरह की स्थिति में स्थानिय पुलिस को सूचित करें या बच्चों के टॉल फ्री नो 1098 को सूचित करें जहां आपकी बातों की गोपनीयता रखी जाती है । ये बाल दुर्व्यापार के बच्चों को गांव से निकालकर शारिरिक शोषण , देह व्यापार , बंधुआ मजदूरी , 80 % जिस्मफरोशी , घरेलू नौकर उपलब्ध कराने वाली संस्थाओं को बेच देना , चकलाघरों मे बेच देना , सस्ते श्रम की मांग , अंग व्यापार , सेक्स पर्यटन ,भीख मंगवाने , वेश्यालय आदि में बेच देने में होता है ।
डॉ प्रभाकर कुमार ने बतलाया कि इम्मोरल ट्रैफिकिंग प्रिवेंशन एक्ट ( ITPA ) के अनुसार , अगर व्यापार के इरादे से मानव तस्करी की जाती है तो 07 वर्ष से लेकर उम्र कैद तक कि सजा हो सकती है । बाल दुर्व्यापार के कारण बच्चे अपना बचपन खो देते हैं । बच्चों के अधिकारों का पोषण व विकास अवरुद्ध हो जाता है ।
आर प्रसाद शैक्षणिक संस्थान के सरंक्षक मुकेश कुमार बच्चों में विभिन्न माध्यमों से उनमें आत्मविश्वास जगाया । शिक्षा प्रत्येक बच्चे तक मिल पाए , इसपर प्रकाश डाले , क्योंकि शिक्षा के माध्यम से ही समाज में आशातीत परिवर्तन होनी है । बच्चों से सामान्य ज्ञान प्रश्नों को पूछना , उनके अंदर छिपी योग्यता की पहचान करना , उनमें आत्मविश्वास को बढ़ाने का कार्य जागरूकता अभियान में किया । 18 वर्ष तक अपने परिवार , माता पिता के सरंक्षण मे रहने की बात रखी । बच्चों को मास्क के महत्व बतलाते हुए उन्हें पुरस्कृत की गयी , उन्हें कॉपी , कलम , पेंसिल , कटर , रबर आदि वितरित किये गए । माता पिता से अपील किये कि बच्चों के सरंक्षण व अधिकारों की रक्षा में आपकी अद्वितीय भूमिका है जिसे हर हाल में आपको पूरा करना है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *