लंबित योजनाओं को समय पर करें पूर्ण : उपायुक्त

उपायुक्त गुमला की अध्यक्षता में तकनिकि पदाधिकारियों के कार्यों की समीक्षा हेतु बैठक संपन्न

गुमला : उपायुक्तशिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में तकनिकि पदाधिकारियों के कार्यों की समीक्षा हेतु बैठक आईटीडीए भवन स्थित उपायुक्त के कार्यालय कक्ष में की गई।

बैठक में भवन निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा के क्रम में पाया गया कि 47 योजनाओं में से पूर्व माह में 16 तथा वर्तमान माह में 04 योजनाएं पूर्ण की गई हैं तथा शेष 27 योजनाओं में कार्य अपूर्ण हैं। उपायुक्त ने आश्रम बालिका विद्यालय सिसई के नवीकरण की अद्यतन स्थिति की जानकारी प्राप्त की। बताया गय़ा कि नवीकरण का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। उपायुक्त ने जिलांतर्गत सरकारी भवनों की मरम्मति/ नवीकरण, सरकारी पदाधिकारियों आवास आदि से संबंधित कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण करने का निर्देश दिया।

बैठक में भवन निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता के अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित पाए जाने पर उपायुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए आवश्यक कार्रवाई करते हुए उनके वेतन स्थगित करने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने मंडल कारा गुमला के परिधि दीवार तथा चहारदीवारी निर्माण के अद्यतन स्थिति की जानकारी प्राप्त की। निर्माण कार्य प्रगति पर होने की जानकारी दी गई। वहीं मंडल कारा में अस्तपाल भवन निर्माण की समीक्षा के क्रम में बताया गया कि अस्पताल भवन में प्लास्टर कार्य संचालित है किंतु आवंटन अप्राप्त होने के कारण कार्य बाधित है। वहीं 150 बेडों की क्षमता वाले बंदी बैरक निर्माण की समीक्षा के दौरान बताया गया कि बैरक भवन बनकर तैयार है, किंतु परिधि दीवार का कार्य पूर्ण नहीं होने के कारण अभी बंदियों को बैरक में परिवर्तित नहीं किया गया है।

बैठक में झारखंड राज्य भवन निर्माण निगम लिमिटेड के कार्यों की समीक्षा में पाया गया कि निगम द्वारा 06 योजनाओं के कार्य अवरूद्ध हैं। 04 योजनाओं का कार्य रद्द किया गया है। 03 योजनाओं की प्रशासनिक स्वीकृति हेतु भेजा गया है। 03 योजनाओं में निविदा की कार्रवाई की जा रही है तथा 01 योजना में डीपीआर बनाने की कार्रवाई की जा रही है।

लघु सिंचाई के कार्यों की समीक्षा के क्रम में पाया गया कि विशेष केंद्रीय सहायता योजनांतर्गत कुल 50 स्वीकृत योजनाओं में से 32 योजनाएं पूर्ण तथा शेष 18 योजनाएं अपूर्ण हैं। अनाबद्ध निधि अंतर्गत कुल स्वीकृत 46 योजनाओं में से 45 पूर्ण तथा शेष 01 योजना अपूर्ण है। वहीं आकांक्षी जिला योजनांतर्गत कुल 8 स्वीकृत य़ोजनाएं पूर्ण कर ली गई हैं। उपायुक्त ने कार्यपालक अभियंता द्वारा दिए जाने वाले योजनाओं के प्रगति प्रतिवेदन में एकरारनामा एवं योजनाओं के समापन की तिथि भी अंकित करने का निर्देश दिया। नगर भवन गुमला में पूर्व में लगे पुराने आईपीएस फर्श के स्थान पर नए टाइल्स तथा शौचालय मरम्मति का कार्य 80 प्रतिशत पाया गया। इसपर उपायुक्त ने उक्त कार्यों को पूर्ण करने के साथ-साथ उच्च गुणवत्तायुक्त ध्वनि प्रणाली की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

पर्यटन, कला, संस्कृति, खेलकूद एवं युवा कार्य मद अंतर्गत संचालित प्रगतिशील योजनाओं की समीक्षा की गई। समीक्षा के क्रम में सिरा-सीता धाम पर्यटन स्थल में पर्यटक विश्रामगृह के निर्माण कार्य के संबंध में बताया गया कि एकरारनामा की प्रक्रिया चल रही हैं, किंतु भूमि पर विवाद होने के कारण निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं किया गया है। अगले 10 से 15 दिनों के अंदर सभी प्रकार की समस्याओं का समाधान करते हुए निर्माण कार्य प्रारंभ करने की जानकारी दी गई। इसके साथ ही जिला परिषद द्वारा प्रखंड अल्बर्ट एक्का जारी में अल्बर्ट एक्का समाधि स्थल में 460 फीट चहारदिवारी निर्माण के संबंध में जिला अभिंयता द्वारा कार्य पूर्ण होने की जानकारी दी गई। साथ ही अल्बर्ट एक्का प्रतिमा स्थल पर आवश्यक मरम्मति कार्य अपने तिम चरणों में पाई गई।

उपायुक्त ने सभी संबंधित विभागों को सही समय पर योजनाओं को पूर्ण करने तथा लंबित योजनाओं को अविलंब पूर्ण करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने सभी तकनीकि पदाधिकारियों को पूर्ण योजनाओं के शिलान्यास हेतु अच्छी गुणवत्तायुक्त शीलापट्ट अधिष्ठापित कराने का निर्देश दिया। उन्होंने संचालित एवं कार्यान्वित योजनाओं की जानकारी विधायक एवं जनप्रतिनिधिय़ों को भी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

उपस्थिति
बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ, कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद सह सदर अनुमंडल पदाधिकारी रवि आनंद, जिला अभियंता जिला परिषद, कार्यपालक अभियंता ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल/ एनआरईपी/ लघु सिंचाई प्रमंडल/ पीएचईडी/ जलपथ प्रमंडल/ पथ प्रमंडल, सहायक अभियंता भवन निर्माण विभाग व अन्य उपस्थित थे।