गढ़वा : 14 वर्षों से फरार माओवादी गिरफ्तार, पुलिस गाड़ी उड़ाने के लिए लैंडमाइन लगाने में था माहिर

गढ़वा से नित्यानंद दुबे की रिपोर्ट

गढ़वा : जिले के अति उग्रवाद प्रभावित भंडरिया बडगड मुख्य पथ पर सालों जंगल में पुलिस गाड़ी को उड़ाने के लिए बारूदी सुरंग बिछाने के अभियुक्त माओवादी अंगद तुरी को भंडरिया पुलिस गिरफ्तार कर सोमवार को जेल भेज दिया है । इसकी जानकारी देते हुए भंडरिया थाना प्रभारी सह इंस्पेक्टर लक्ष्मीकांत ने बताया कि परसवार गांव निवासी अंगद तुरी भंडरिया बरगढ़ पद पर सालों जंगल में बारूदी सुरंग बिछाने में शामिल था । पुलिस इसकी 14 वर्षों से तलाश कर रही थी। पुलिस पुलिस ने कई बार इसे गिरफ्तार करने के लिए धावा बोला था लेकिन हर बार चकमा देकर बचने में सफल हो जाता था । गढ़वा पुलिस अधीक्षक अंजनी कुमार झा के निर्देश पर पुलिस पदाधिकारियों की एक टीम बनाई गई थी । गुप्त सूचना के आधार पर उक्त टीम में शामिल पुलिस पदाधिकारियों ने आरोपी को उसके घर से रविवार को गिरफ्तार कर लिया ।
इंस्पेक्टर लक्ष्मीकांत ने बताया कि अंगद तुरी 2007 में पुलिस बल पर जानलेवा हमला कर हथियार लूटने के उद्देश्य से भंडरिया बडगड सड़क में बारूदी सुरंग लगा रखा था ।जिसे पुलिस ने खोजी कुत्ता की मदद से सड़क पर लगाए गए बारूदी सुरंग को पकड़ लिया। इस बारूदी सुरंग को डिफ्यूज करने के लिए बारूदी सुरंग निरोधक दस्ता रांची से बुला कर इसे डिफ्यूज किया गया था । समय रहते इस बारुदी सुरंग को पुलिस नहीं पकड़ पाती तो पुलिस को बहुत बड़ी क्षति उठानी पड़ती। बारूदी सुरंग लगाने की माओवादी सहयोगी अंगद तुरी के विरुद्ध भंडरिया थाना कांड संख्या 14/ 2007 दिनांक 6 मई 2007 को दर्ज की गई थी । इनके विरूद्ध धारा 307 ,353,341,120 बी ,17 सीएल एक्ट सहित अन्य धाराएं लगाई गई थी ।

एक अन्य मामले में स्थाई वारंटी प्रवेश कुजूर को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।