दो दिन की बारिश से उफनाई नदियां, ढहे घर

खूंटी:  दो दिन की नॉन स्टॉप भारी बारिश से खूंटी के नदी, खेत तालाब सभी लबालब हो गए। खूँटी के कई इलाकों में कई दीवारें और घर ढह गए। नदियाँ भी उफान में आ गयी। क्षेत्र के नामी पर्यटक स्थलों में पानी फिर एक बार अपना रुप दिखलाया है।
दो दिन के दिनभर की बारिश से बिरहू गांव के प्रफुल्ल महतो का घर ढह गया। अच्छी बात यह रही कि लोग घर से निकल गए थे और काम पर चले गए थे इसलिए इस हादसे का शिकार होते होते बच गए । लेकिन दो बकरियाँ घर के मलबे में दबकर मर गई। पड़ोसियों ने बताया कि कुछ देर पहले ही गाय बैल को भी बाहर निकाल कर ले गए थे। नहीं तो घर ढहने के हादसे से गोवंश‌ पर भी आघात हो सकता था।
पड़ोसी समाजसेवी सह कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामकृष्ण चौधरी ने बताया कि जब घर से परिवार के सभी लोग बाहर निकल गए थे। उसके बाद ही ऐसा हादसा हुआ नहीं तो लोग भी इसका हादसे पर चोटिल हो सकते थे। घर के लोग बैल को निकाल चुके थे। लेकिन बारिश के कारण बकरियाँ घर में ही बंधी रह गयी। उसके बाद ही पूरा घर भरभराकर गिर गया।