खूंटी: 2 लाख का इनामी नक्सली गिरफ्तार

खूंटी: खूंटी पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी। प्रतिबंधित नक्सली संगठन पीएलएफआई के दो लाख का इनामी नक्सली सामुएल कंडुलना उर्फ चांगो उर्फ सामू चाचा को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार नक्सली पीएलएफआई का एरिया कमांडर था और सिमडेगा, खूंटी और गुमला जिले के इलाकों में नक्सली गतिविधियों को अंजाम देता था।

पुलिस ने इसके पास से एक सिंगल बैरल देशी पिस्टल और दो गोली बरामद किया है। गिरफ्तार इनामी नक्सली चाईबासा जिला के बन्दगांव केडके का निवासी है। झारखण्ड सरकार ने इसपर 2 लाख का इनाम घोषित किया था। नक्सली सामुएल की गिरफ्तारी खूंटी पुलिस के लिए बड़ी उपलब्धि मानी जा रही है क्योंकि यह पूर्व में जलडेगा के कानारोंवा जंगल मे पुलिस के साथ हुए मुठभेड़ में दस्ता सदस्यों के पकड़े जाने पर बच निकला था और खूंटी जिले के रनिया, तोरपा, बानो, कामडारा इलाके में छुपा था।

खूंटी एसपी आशुतोष शेखर को गुप्त सूचना मिली थी कि प्रतिबंधित नक्सली संगठन पीएलएफआई के छह-सात हथियारबंद दस्ता सदस्य तोरपा थाना के महारौड़ा जंगल में इकट्ठा है तथा किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की तैयारी में है इसी सूचना पर खूंटी एसपी के निर्देश पर टीम का गठन किया गया और एएसपी अभियान रमेश कुमार और तोरपा एसडीपीओ ओपी तिवारी के नेतृत्व में टीम ने तोरपा के महारौड़ा जंगल मे अभियान चलाया। इस अभियान में महारौड़ा जंगल से 2 लाख का इनामी एरिया कमांडर पुलिस के हत्थे चढ़ा।

नक्सली सामुएल कंडुलना उर्फ चांगो उर्फ सामू चाचा विगत एक दशक से ही पीएलएफआई में सक्रिय था और कई घटनाओं को अंजाम दे चुका था। बंदगांव थाना में 3 मामले, तोरपा थाना में 3 मामले, जलडेगा थाना में 4 मामले और बानो थाना में 2 मामले अर्थात कुल एक दर्जन मामले अलग अलग थाना में दर्ज है।

महारौड़ा जंगल मे चलाये गए अभियान का नेतृत्व अभियान के एएसपी रमेश कुमार, तोरपा एसडीपीओ ओपी तिवारी कर रहे थे साथ ही तोरपा अंचल पुअनि दिग्विजय सिंह, तोरपा थाना प्रभारी पुअनि अरविंद कुमार, पुअनि महती बोयपाई, पुअनि अकबर अहमद खान, परि.पुअनि. मनोज तिरकी, अंगरक्षक आरक्षी सचेन्द्र सिंह, अंगरक्षक आरक्षी रामाधार कुमार, रिजर्व गार्ड आरक्षी अनूप लकड़ा, आरक्षी सुनील उरांव, आरक्षी अनुराग खलखो शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *