20 से 27 मार्च तक गुमला जिले के 159 पंचायतों में 06 दिवसीय टीकाकरण अभियान का होगा आयोजन

टीकाकरण अभियान के माध्यम से 45 से 59 तथा 60 वर्ष से ऊपर आयुवर्ग के सभी लोगों को दिया जाएगा कोविड-19 वैक्सिन का डोज

उपायुक्त गुमला ने इस विशेष टीकाकरण अभियान के सफल क्रियान्वयन हेतु बैठक कर दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

गुमला:  उपायुक्त गुमला शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में आगामी 20 से 27 मार्च तक जिले के सभी 159 पंचायतों में होने वाले 06 दिवसीय विशेष टीकाकरण अभियान के सफल क्रियान्वयन हेतु बैठक आईटीडीए भवन स्थित उपायुक्त के कार्यालय प्रकोष्ठ में किया गया।

बैठक में उपायुक्त ने 06 दिवसीय टीकाकरण अभियान में विशेष रूप से लक्षित समूह 45-59 तथा 60 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग वाले व्यक्तियों का शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि जिले में 45-59 तथा 60 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग वाले व्यक्तियों को टीकाकरण लगाने हेतु कुल 01 लाख 20 हजार का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने बताया कि जिले के सभी 159 पंचायतों को आच्छादित करने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा कुल 159 टीकाकरण दलों का गठन किया गया है। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को अधिक से अदिक लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित करने पर विशेष जोर दिया।

बैठक में उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को अभियान के सफल क्रियान्वयन हेतु स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयार किए गए पंचायतस्तरीय कार्ययोजना को निर्धारित प्रारूप में भरकर कल तक उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने टीकाकरण दल में शामिल सहिया, एएनएम, आंगनबाड़ी की सेविका, सहायिका वैक्सिन कैरियर को प्रत्येक केंद्रों पर प्रतिनियुक्त करने तथा उक्त दल के कार्यों के पर्यवेक्षण हेतु प्रति पंचायत एक प्रयवेक्षक की पर्तिनियुक्ति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने विशेष टीकाकरण अभियान के माध्यम से सभी 159 पंचायतों को आच्छादित करने के लिए एएनएम, सहिया, आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका तथा जेएसएलपीएस के स्वयं सहायता समूह की दीदीयों को उत्प्रेरक के रूप में चिन्हित करने का निर्देश दिया। बैठक में छह दिवसीय टीकाकरण अभियान में टीकाकरण स्थल के निर्धारण को लेकर विचार-विमर्श किया गया।

उपायुक्त ने प्रत्येक टीकाकरण केंद्र पर प्रतिदिन कम से कम 100 व्यक्तियों का टीकाकरण करने का निर्देश दिया। उन्होंने किसी भी परिस्थिति में कोविड-19 वैक्सिन के डोज का दुरुपयोग न करने का निर्देश दिया। टीकाकरण पर आने वाले लाभुकों के लिए पर्याप्त पेयजल एवं बैठने की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने खासकर 45 से 59 वर्ष के वैसे लाभुक जो जो गैर संचारी रोग जैसे मधुमेह, उच्च रक्तचाप सहित अन्य बीमारी से प्रभावित हैं, उन्हें अधिकाधिक संख्या में टीकाकरण से अच्छादित करने का आवश्यक निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि टीकाकरण कार्य में तेजी लाएं तथा निर्धारित लक्ष्य को हासिल करें। उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि अपने अपने प्रखंड अन्तर्गत टास्क फ़ोर्स की बैठक कर टीकाकरण कार्य में तेजी लाएं तथा एमओआईसी के साथ समन्वय स्थापित करते हुए टीकाकरण में प्रगति सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी टीकाकरण स्थल पर आने वाले 45 से 59 एवं 60 वर्ष से ऊपर के लोगों का आधार कार्ड संख्या एवं मोबाइल नंबर के माध्यम से ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन करवाने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने विशेष आपातकालीन स्थिति को ध्यान में रखते हुए प्रति प्रखंड एक से दो ऐम्बुलेंस की व्यवस्था सुदृढ़ करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने ऐम्बुलेंस चालक का मोबाईल नंबर भी संधारित करने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिया।

बैठक में उपायुक्त ने टीकाकरण के कार्य में प्रगति सुनिश्चित करने के उद्देश्य से व्यापक प्रचार-प्रसार एवं जागरूकता लाने का निर्देश दिया। इस संबंध में उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारियों को इअपने संबंधित जेएसएलपीएस के स्वयं सहायता समूह की महिलाओं सहित अन्य प्रतिनिधियों की सहायता से जनजागरूकता अभियान चलाकर अधिकाधिक लोगों को टीकाकरण हेतु उत्प्रेरित करने का निर्देश दिया। इस संबंध में उन्होंने स्वयं सहायता समूह क महिलाओं से अपने-अपने क्षेत्रांतर्गत जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को टीकाकरण के लिए जागरूक करने का निर्दश दिया। साथ ही समाचार पत्रों में विज्ञापन प्रकाशित करने के माध्यम से भी प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने लाभुकों का शत-प्रतिशत डाटा प्रविष्टि सुनिश्चित करने के उद्देश्य से प्रज्ञा केंद्रों तथा वीएलई को टैग करने का निर्देश दिया। इस संबंध में अपर समाहर्ता ने ग्रामवार प्रज्ञा केंद्रों की सूची उपलब्ध कराने का निर्देश सीएससी मैनेजर को दिया। इसके साथ ही उपायुक्त ने वेबिनार के माध्यम सभी वी एल ई का प्रशिक्षण कल सुनिश्चित करने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिया।

उपस्थिति
बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, सिविल सर्जन डॉ. विजया भेंगरा, उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ, अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता, डीपीएम स्वास्थ्य जया रेशमा खाखा, डीपीएम पंचायती राज शशि किरण, डब्लूएचओ के डॉ मृत्युंजय कुमार, प्रखंड विकास पदाधिकारी गुमला/ घाघरा/ बिशुनपुर/ सिसई/ भरनो/ रायडीह/ बसिया/ कामडारा/ पालकोट, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमर हुड़मारे, सीएससी मैनेजर राजीव रंजन नंदा, स्वास्थ्य विभाग के प्रतिनिधि व अन्य उपस्थित थे।