63 कोरोना वारियर्स को अंग वस्त्र एवं प्रशस्ति पत्र देकर किया गया सम्मानित 

सिसई: प्रखंड विकास पदाधिकारी  प्रवीण कुमार ने प्रखण्ड सभागार में आज सम्मान समारोह आयोजित कर प्रखण्ड के 63 कोरोना वारियर्स को अंग वस्त्र और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर बीडीओ ने कहा कि पूरा विश्व कोरोना महामारी से आक्रांत था। हमारा प्रखण्ड भी इससे अछूता नहीं था। महामारी से बचाव को लेकर सरकार ने लॉकडाउन घोषित किया। महामारी से बचाव व सुदूरवर्ती इलाकों से आने वाले राहगीरों, प्रखण्ड क्षेत्र के गरीब एवं असहाय लोगों की मदद करना प्रखंड प्रशासन के लिए एक चुनौती थी। ऐसी विकट परिस्थिति में जो लोग निस्वार्थ भाव से आगे बढ़कर कोविड-19 संक्रमण से फैलाव को रोकने के लिए लोगों को जागरूक करने, लॉक डाउन के दौरान गरीब असहाय लोगों को राहत सामग्री देने ,गांव -गांव में दीदी किचन,दाल भात केंद्र चलाने वाले,स्टॉल लगाकर राहगीरों को फल, पानी,भोजन देने वाले,बाहर से लौटे प्रवासी मजदूरों को क्वारंटाइन करने, सरकारी निर्देशों को पालन कराने वाले,कोरोना जांच व ईलाज करने वाले, वैक्सीनेशन को लेकर जागरूकता फैलाने तथा प्रखण्ड क्षेत्र को कोरोना मुक्त बनाने में प्रखण्ड प्रशसन की मदद करने वाले सरकारी कर्मी, राजनैतिक-सामाजिक संगठन व संस्था और प्रखण्ड पत्रकार के 63 लोगों का चयन कर उन्हें आज सम्मानित किया जा रहा है।

उन्होंने सभी कोरोना वारियर्स की प्रशंसा करते हुए कहा कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है, तीसरी लहर आने वाली है, आगे भी इसी तरह से परस्पर भाव बनाकर प्रखण्ड क्षेत्र को कोरोना मुक्त बनाने में सहयोग की अपेक्षा प्रखण्ड प्रशासन रखती है।

वहीं वरिष्ठ नागरिक पूर्व शिक्षक पीताम्बर झा और भगवान दास ने प्रखण्ड क्षेत्र को कोरोना मुक्त बनाने का श्रेय बीडीओ को देते हुए कहा कि सरकारी निर्देशों का पालन करने में इन्होंने पूरी ईमानदारी दिखाई हैं। इनके कुशल नेतृत्व की जितनी प्रशंसा अतुल्नीय है।

इस मौके पर पूर्व शिक्षक पितांबर झा, समाजसेवी भगवान दास अग्रवाल, शिक्षक सुधीर कुमार, विपीन बिहारी झा, फादर अमृत, इंद्रमन साहू, सुधीर सिंह, डॉ नमिता लकड़ा, थाना प्रभारी पुसो मिचराय पाडेया, सिसई थाना प्रभारी अभिनव कुमार, एस आई इन्द्रजीत कुमार, प्रकाश उरांव, रवि उरांव, मो. फैयाज अंसारी, बैबुल अंसारी, अनिल साहू, अमन यादव, अब्दुल रब अंसारी, मकीन अंसारी, शिवप्रसाद साहू सहित प्रखंड -अंचल व विभिन्न विभागों के कर्मी मौजूद थे।