अमेरिकन स्टेनगन व अन्य हथियारों के साथ टीएसपीसी के 7 सात उग्रवादी गिरफ्तार

भेजे गए जेल, सबजोनल कमाडर नायक के विरुद्ध विभिन्न थानों में आठ मामले दर्ज
चतराः प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन टीएसपीसी के सबजोनल कमाडर रामराज रजक उर्फ गोरा बैठा उर्फ नायक सहित सात उग्रवादियों को पुलिस व सीआरपीएफ के संयुक्त अभियान में गिरफ्तार कर शुक्रवार को जेल भेज दिया गया। नायक के विरुद्ध चतरा, हजारीबाग व पलामू जिले के विभिन्न थानों में हत्या, रंगदारी, लेवी वसूली आदि के आठ मामले दर्ज हैं। उग्रवादियों के पास से एक 9 एमएम का अमेरिकन स्टेनगन, एक एम एक गैंड रायफल, 7.62 एमएम का एक एसएलआर रायफल, एक देशी बंदूक, एक देशी कट्टा, एम एक गैंड रायफल का एक जिंदा गोली, 7.62 एमएम एसएलआर रायफल का 61 जिंदा गोली, 38 नौ एमएम का जिंदा गोली, मैगजीन, टीएसपीसी का पर्चा, एक मैगजीन व विभिन्न कंपनियों का 10 टच स्क्रीन मोबाइल बरामद किया गया है। एसपी राकेश रंजन ने समाहरणालय स्थित अपने कार्यालय में प्रेस वार्ता कर इसकी जानकारी देते हुए बताया कि गुप्त सूचना प्राप्त हुई थी कि जिला के टूटकी क्षेत्र में टीएसपीसी सब जोनल कमांडर आराम राज रजक उर्फ दिलीप उर्फ नायक अपने दस्ते के साथ भ्रमणशील है तथा हथियार के बल पर जिला में लेवी लेने की योजना बना रहे हैं। सूचना के सत्यापन एवं कार्यवाई हेतु सिमरिया एसडीपीओ अशोक कुमार राम, सीआरपीएफ 22वीं बटालियन के द्वितीय कमान पदाधिकारी ब्रजेश कुमार व सहायक समादेष्टा दुर्गेश कुमार के संयुक्त नेतृत्व में एक छापेमारी टीम का गठन किया गया और टीम ने टूटकी जंगल में छापेमारी की गई, जिसमें एक संदिग्ध व्यक्ति टीम को देखकर भागने लगा। जिसके खदेड़ कर पकड़ कर पूछताछ करने पर बताया कि टीएसपीसी का सबजोनल कमांडर नायक अपने टीम के साथ लेवे लेने के लिए एकत्रित होने वाला है। उसके बाद टीम ने घात लगाकर नायक को गिरफ्तार करने के उपरांत उसके निशानदेही पर सिमरिया थाना क्षेत्र के तपता गांव निवासी स्वर्गीय रामेश्वर प्रसाद के पुत्र उमेश कुमार व लालो साहू के पुत्र दिलीप कुमार, हजारीबाग जिले के केरेडारी थाना क्षेत्र के गोपदा गांव निवासी विष्णु महतो के पुत्र गणेश महतो, केरेडारी थाना क्षेत्र के मनातू गांव निवासी विजय महतो के पुत्र राहुल कुमार तथा लातेहार जिले के बालूमाथ थाना क्षेत्र के रामसहाय उरांव के पुत्र श्याम उरांव को गिरफ्तार करने के साथ घटना में इस्तेमाल किए जाने वाले उपरोक्त हथियार को बरामद किया गया। आगे बताया कि नायक पूर्व में 1997 से 2010 तक भाकपा माओवादी में सब जोनल कमांडर रहा था। वर्ष 2015 में टीएसपीसी में एरिया कमांडर के रूप में जुड़ा था और सब जोनल कमांडर अविनाश उर्फ विकास के जेल जाने के बाद नायक सबजोनल कमांडर के नाम से हजारीबाग, पलामू व चतरा जिला में लेवी एवं रंगदारी वसुली करने को लेकर सक्रिय था। सातो उग्रवादियों को न्यायालय में प्रस्तुत करने के बाद जेल भेज दिया गया। अभियान में उपरोक्त पदाधिकारियों के साथ शिला पिकेट प्रभारी प्रमानंद मेहरा, सिमरिया थाना प्रभारी अविनाश कुमार, पत्थलगडा प्रभारी रोहित साव के अलावे अन्य पुलिस व सीआरपीएफ कर्मी शामिल थे।