बलियापुर से राजभवन तक 160 किलोमीटर की विशाल पदयात्रा शुरू, 27 को पदयात्रा करते 10 हजार लोग पहुंचेगे रांची

रांची: पदयात्रा के नेत्तृत्वकर्ता टोटेमिक कुरमी/कुडमी विकास मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष शीतल ओहदार ने कहा कि पदयात्रा में टोटेमिक कुरमी/कुड़मी विकास मोर्चा के दस हजार लोगों के साथ विनोद बाबू के वंशजों की उपस्थिति में विनोद धाम से पवित्र मिट्टी राजभवन रांची के लिए रवाना हुए हैं, जो बलियापुर चौक, विनोद बाबू चौक ,पहाड़पुर, पलानी, डोकरा, करमाटांड़, डांगी मोड़ स्टील गेट, रणधीर वर्मा चौक, विनोद बाबू स्टेचू, रेलवे स्टेशन, धनबाद श्रमिक चौक, बैंक मोड़, गोधरा, तेंदुआ करकेंद, पुटकी, महूदा बाजार होते हुए कपूरिया मोड़ में रात्रि विश्राम करेंगे । 24 सितंबर 2021 को प्रातः पदयात्रा आगे की ओर बढ़ेगी जो तेलमोचो पुल होते हुए दिन में बोकारो जिला प्रवेश करेगी ,जो जोधाडीह मोड़, धर्मशाला मोड़, हवाई अड्डा ,नया मोड़, बालीडीह में रात्रि विश्राम करेगी । 25 सितंबर 21 को पदयात्रा जैना मोड़, पेटरवार होते हुए रामगढ़ जिला प्रवेश करेगी।पदयात्रा रामगढ़ जिला में शंघाई घाटी, चक्रवाली चौक ,मगनपुर चौक होते हुए झिंझरी टांड़ में रात्रि विश्राम किया जाएगा। 26 सितंबर 2021 को प्रातः सोसो चौक, हेमंतपुर, डीवीसी चौक गोला, काली नाथ चौक, कमता,कोईया, अलगडीहा,सोटई चौक, बरियातू बाजार, सिकिदिरी घाटी होकर पदयात्रा काफिले के साथ रांची जिला प्रवेश करेगी और रात्रि विश्राम ओरमांझी में होगा । 27 सितंबर 2021 को प्रातः ब्लॉक चौक ओरमांझी में समाज के बिस हजार से भी अधिक लोग पवित्र मिट्टी का दर्शन करेंगे और 9:00 बजे काफिले के साथ पदयात्रा विकास ,बीआईटी मोड़, बूटी मोड़, बरियातू, कचहरी चौक होते हुए जाकिर हुसैन पार्क पहुंचेगी। वहां पहुंचकर समाज के 11 सदस्य प्रतिनिधि मंडल द्वारा महामहिम राज्यपाल एवं माननीय मुख्यमंत्री जी को पवित्र मिट्टी एवं मांग पत्र सौंपा जाएगा। पदयात्रा के माध्यम से लोग पारंपरिक पोशाक, धोती एवं गंजी में रहेंगे। पदयात्रा का झारखंड सरकार से महापुरुष विनोद बिहारी महतो को झारखंड पितामह का दर्जा देने ,बोकारो एयरपोर्ट का नामकरण बिनोद बिहारी महतो एयरपोर्ट करने, सरकारी पाठ्यक्रम में बिनोद बिहारी महतो की जीवनी शामिल करने, राजभवन एवं विधानसभा में बिनोद बाबू का आदमकद प्रतिमा लगाने एवं राजधानी रांची में बिनोद बाबू का समाधि स्थल बनाने की मांग किया जायेगा!
पदयात्रा में आवश्यक संसाधन भी उपलब्ध रहेंगे, एंबुलेंस रहेगा, जिसमें जरूरी दवाएं और चिकित्सक रहेंगे । एक बड़ा वाहन होगी जिसमें बेड बिछा हुआ रहेगा। दो स्कोट गाड़ियां जिप्सी होगा जो आगे और पीछे पदयात्रियों का निगरानी करेंगे ।विनोद बाबू का फोटो लगा हुआ एक रथ फूलों से सजा रहेगा और एक साउंड युक्त प्रचार वाहन होगा तथा ढांक-नगाड़ा बाजा वालों का वाहन भी होगा।
पदयात्रा में मोर्चा के केंद्रीय महासचिव रामपोदो महतो, केंद्रीय मीडिया प्रभारी ओम प्रकाश महतो,कुडमी सेना के अध्यक्ष लालटु महतो, केंद्रीय उपाध्यक्ष हेमलाल महतो, जगरनाथ महतो,रचिया महतो, दीपक महतो, नारायण महतो,प्रदीप महतो, विराट महतो, अनिल महतो,सखिचन्द महतो,सुषमा देवी , संजय महतो, नरेश महतो,सोनालाल महतो,फुलको देवी,राजू महतो, चंदन महतो,सोमनाथ महतो,महेंद्र महतो, गिरधारी महतो,नरेश महतो, अशोक महतो,मुनचून महतो,पंकज महतो,दिनेश महतो, फनेश्वर महतो, सेवकी आदि हजारों लोग शामिल थे!