बसंतराय के छठ घाटों पर गंदगी का अंबार

कामिल की रिपोर्ट
बसंतराय: लोक आस्था का महापर्व कहा जाने वाला छठ आने को महज 10 दिन बाकी रह गए हैं। परंतु प्रखंड मुख्यालय स्थित ऐतिहासिक तालाब के छठ घाटों में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। बताया जाता है कि बसंतराय तालाब का घाट ऐतिहासिक एवं बेहद पुराना है। व्यवस्था की दृष्टि से छठ व्रतियों को स्थानीय समिति के द्वारा कई प्रकार की सुविधाएं मिलती हैं। पूरे घाट को पर्व के दौरान सुसज्जित ढंग से सजाया जाता है। लेकिन अभी घाट की मौजूदा स्थिति ठीक नहीं है। चारों ओर गंदगी का अंबार लगा हुआ है। पानी में जलकुंभी फैला हुआ है। साथ ही घाट के आसपास गंदगी फैली हुई है। जिससे छठ पूजा के समय श्रद्धालुओं को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। शहर से लेकर गांव तक के छठ घाटों की साफ सफाई नही होने से श्रद्धालुओं में पर्व करने में होने वाली परेशानी झलक रही है। श्रद्धालु अपने अपने हिसाब से छठ घाट की साफ सफाई करने की योजना बनाने में लगे हुए हैं। बीते कई वर्षों से स्थानीय समिति छठ घाटों की सफाई करते आई है।
जनप्रतिनिधि की उदासीनता के कारण तालाब के घाट पर भारी मात्रा में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। बताया जाता है कि प्रखंड मुख्यालय स्थित ऐतिहासिक तालाब के घाट पर छठ पर्व करने का विशेष महत्व है। तालाब का पौराणिक महत्व भी है। यहां पर बड़ी संख्या में आस पास गांवों के व्रती छठ करने आते हैं। स्थानीय लोगो ने प्रखंड प्रशासन से छठ घाटों की जल्द सफाई कराने की मांग की है।