मेहरमा के छठ घाटों पर गंदगी का अंबार

विजय कुमार की रिपोर्ट

मेहरमा : लोक आस्था का महापर्व छठ में महज 15 दिन ही बाकी रह गए हैं। किंतु प्रखंड के कई प्रमुख छठ घाटों पर गंदगी का अंबार लगा है। मेहरमा प्रखंड के अमजोरा पिरोजपुर अंतर्गत शिव मंदिर छठ घाट ऐतिहासिक एवं बेहद पुराना है।व्यवस्था की दृष्टि से छठ व्रतियों को समिति के द्वारा कई प्रकार की सुविधाएं दी जाती हैं। पूरे घाट को रंगीन बल्वों से सजाया जाता है। सरकारी योजनाओं के तहत छठ घाट पर पक्की सीढ़ी का भी निर्माण कराया गया है छठ घाट के कई तरफ मिट्टी भरकर उसे प्लेन किया जाता है। एक निश्चित गहराई के बाद बांस से बैरिकेटिंग की जाती है, ताकि कोई डूबे नहीं। समिति के सदस्य छठ पूजा के अवसर पर काफी सक्रिय होते हैं, ताकि व्रतियों और उनके साथ घाट पर आनेवाले लोगों को कोई परेशानी न हो सके।
पिरोजपुर शिव मंदिर छठ घाट एवं भगैया पंचायत के खंधार छठ घाट में हजारों की संख्या में श्रद्वालु पहुंचते हैं। इधर ठाकुरगंगटी प्रखंड के खंधार छठ घाट पर मानिकपुर, भगैया, राजगांव अराजी व माल तेतरिया पंचायत समेत अन्य गांव के श्रद्धालु पहुंचते हैं।

घाट की मौजूदा स्थिति: घाट की मौजूदा स्थिति ठीक नहीं है। चारो ओर गंदगी फैली है। पानी में शैवाल भरा है। छठ घाट के कुछ हिस्से को अतिक्रमण कर रखा गया है, जिससे छठ पूजा के समय श्रद्धालुओं को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। जनप्रतिनिधि की उदासीनता के कारण भारी मात्रा में गंदगी का अंबार पड़ा है। भाजपा नेता अंकित कुमार भगत ने प्रखंड प्रशासन से अमजोरा पिरोजपुर छठ घाट की पूरी सफाई कराने की मांग किया है जिससे कि श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।