उपायुक्त की अध्यक्षता में विकास योजना की हुई समीक्षा बैठक हुई संपन्न

गढ़वा से नित्यानंद दुबे की रिपोर्ट

गढ़वा: गुरुवार को उपायुक्त राजेश कुमार पाठक की अध्यक्षता में जिला स्तरीय विकास योजनाओं की समीक्षा बैठक समाहरणालय के सभाकक्ष में आयोजित की गई।

बैठक में उपायुक्त ने उपस्थित पदाधिकारियों से स्वीकृत योजनाओं पर तेजी से कार्य करते हुए उसे पूर्ण करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों कोविड-19 के कारण यदि कार्य प्रभावित हुआ है तो अब उस में तेजी लाएं तथा योजनाओं को पूर्ण करते हुए उसका पूर्णता प्रमाण पत्र, फोटोग्राफ व डीसी विपत्र जल्द से जल्द जिला विकास शाखा को देना सुनिश्चित करें। मौके पर उपायुक्त ने विभिन्न विभागों तथा भवन प्रमंडल, भूमि संरक्षण, कृषि विभाग, पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल, विशेष प्रमंडल, जल पथ प्रमंडल समेत अन्य विभाग के पदाधिकारियों से संचालित योजनाओं की वर्तमान स्थिति का जायजा लिया तथा डीसी विपत्र जल्द से जल्द जमा करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारियों को दिया। बैठक में उपायुक्त ने विभिन्न विभाग के पदाधिकारियों को दिनांक 18 जनवरी 2021 को सम्पन्न जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति (दिशा) गढ़वा की बैठक में उठाए गए बिंदुओं का अनुपालन प्रतिवेदन जिला विकास शाखा को उपलब्ध कराने का निर्देश भी दिया।

मौके पर उपायुक्त ने कोविड-19 वैक्सीनेशन पर चर्चा करते हुए जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, जिला कृषि पदाधिकारी व कार्यपालक अभियंता पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल समेत अन्य विभाग के पदाधिकारियों से विभाग अंतर्गत कार्यरत कर्मियों को कोविड-19 का टीका दिलवाने की अपील की। उन्होंने कहा कि पदाधिकारी अपने कार्यालय में कार्यरत कर्मियों से समन्वय स्थापित करते हुए ड्राइव चलाकर अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लेने में उनकी मदद करें। जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सीडीपीओ से समन्वय बनाते हुए सभी आंगनबाड़ी सेविका व सहायिकाओं को अपने परिवार तथा आस-पड़ोस के लोगों को कोविड-19 टीका लेने हेतु प्रेरित करें। वहीं कृषि पदाधिकारी कृषि मित्र तथा खाद- बीज व्यवसायियों को स्वयं तथा अपने परिवार को कोविड-19 का टीका दिलाने हेतु प्रेरित करें।

बैठक में उपायुक्त के अलावा, उप विकास आयुक्त गढ़वा, निदेशक डीआरडीए गढ़वा, अनुमंडल पदाधिकारी गढ़वा, जिला कृषि पदाधिकारी, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, जिला भूमि संरक्षण पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता जल पथ प्रमंडल गढ़वा, कार्यपालक अभियंता भवन प्रमंडल विभिन्न विभागों से आए पदाधिकारी व कर्मी समेत अन्य उपस्थित थे ‌।

2. गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अनुमंडल पदाधिकारी,अंचलाधिकारी व प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ बैठक की गई, साथ ही सभाकक्ष में जिला स्तरीय पदाधिकारियों व स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों के साथ भी उपायुक्त राजेश कुमार पाठक की अध्यक्षता में कोविड–19 टीकाकरण से संबधित समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उपायुक्त गढ़वा के द्वारा बताया गया कि जिले के प्रत्येक प्रखंडों में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया में तेजी लाई जाएं। इस संबंध में अनुमंडल पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, एवं एमओआइसी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

वैक्सीनेशन प्रक्रिया में तेजी लाने हेतु उन्होंने बताया कि पंचायत सचिव , स्थानीय जनप्रतिनिधि, प्रधान कार्यकारी समिति ( मुखिया), ग्राम प्रधान एवं पीडीएस डीलर, वेंडरों के माध्यम से सर्वप्रथम गांव में जागरूकता फैलाएं ताकि कोविड वैक्सीनेशन के प्रति लोग अधिक से अधिक संख्या में जागरूक होकर वैक्सीनेशन प्रक्रिया में भाग लें तथा अपना-अपना वैक्सीनेशन कराएं।उन्होंने पीडीएस डीलरों, ऑटो चालकों, आंगनवाड़ी, सेविका सहिया को निर्देशित करते हुए कहा कि स्वयं का वैक्सीनेशन तो अवश्य कराएं साथ ही अपने पीडीएस दुकानों पर आए लोगों, आसपास के लोगों, ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन हेतु आमजनों को जागरूक करें।

सुदूर क्षेत्रों के लोगों में वैक्सीनेशन को लेकर भ्रांतियां हैं कि वैक्सीनेशन के उपरांत लोगों की जान जा रही है परंतु उक्त बातों को लेकर यह भ्रांतियां पूरी तरह से गलत है इसी को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों के चिकित्सक, वार्ड पार्षद अपने गांव, मुहल्लों में लोगों के भ्रांतियों को दूर करने तथा वैक्सीनेशन की पूरी तरह सही होने की बातों को जागरूक करने को आगे आने की जरूरत है। तथा उन्हें उत्साहित करने की आवश्यकता है ताकि लोग वैक्सीनेशन हेतु डरे नहीं बल्कि स्वयं आकर वैक्सीनेशन कराएं।

उपायुक्त ने सिविल सर्जन गढ़वा को निर्देशित करते हुए कहा कि वैक्सीनेशन सेंटर पर सभी तरह की व्यवस्था की जाए। जहाँ बैठने हेतु कुर्सियां, पंखा ,पेयजल की सुविधा इत्यादि का मुहैया कराया जाना अति आवश्यक है* ताकि वैक्सीनेशन हेतु आमजनों को किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो।

वहीं उन्होंने डीपीएम गढ़वा से कहा कि वैक्सीनेशन का वेस्टेज ना हो इसका विशेष ध्यान व एमओआईसी को भी अपने स्तर से इसकी निगरानी रखेंगे को कहा गया तथा कल से 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीनेशन ड्राइव चला कर वैक्सीनेशन कराने तथा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को इसका ज्यादा से ज्यादा प्रचार प्रसार कराने की बात कही गई। ताकि लोगों को यह जानकारी हो तथा सभी लोग अपना वैक्सीनेशन आगे आकर कराएं। उपायुक्त ने सिविल सर्जन को एक अभियान के तहत आगामी 3 दिनों तक जिले के जुडिशल कर्मियों तथा उनके परिवार के सदस्यों को वैक्सीनेशन कराने की बात कही। इस संदर्भ में उन्होंने बताया कि वैक्सीनेशन की दर घटती नजर आ रही है इसको लेकर तेजी लाने की आवश्यकता है तथा इसकी डाटा एंट्री पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

कुछ सेंन्टरों में देखा जा रहा है कि काफी कम लोगों को वैक्सीन दी जा रही है ऐसे में धुरकी, मेराल, भंडरिया के एमओआईसी को निर्देशित करते हुए बताया गया कि इसमें सुधार करने की आवश्यकता है इस पर विशेष ध्यान रखें।*

उपविकास आयुक्त ने कहा कि सभी अनुमंडल पदाधिकारी, अंचलाधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी को वैक्सीनेशन को लेकर जो भी भ्रांतियां आसपास के क्षेत्र के लोगों में फैली हुई है उन्हें दूर करने की आवश्यकता है तथा वैक्सीनेशन को लेकर ज्यादा से ज्यादा प्रचार प्रसार कराने की आवश्यकता है

बैठक में उपायुक्त गढ़वा के अलावे उप विकास आयुक्त गढ़वा, सभी अनुमंडल के अनुमंडल पदाधिकारी, सभी अंचलाधिकारी, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी , सिविल सर्जन गढ़वा, डीपीएम गढ़वा, प्रखंड चिकित्सा प्रभारी पदाधिकारी (एमओआइसी), जिला स्तरीय चिकित्सा पदाधिकारी, प्रभारी पदाधिकारी गोपनीय शाखा एवं अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *