प्रसव पीड़ा से कराहती महिला को नहीं मिली सरकारी एम्बुलेंस, 1 किमी दलदली सड़क पार अस्पताल पहुंचाने में मदद की महिलाओं ने

रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर: प्रसव पीड़ा से छटपटाती आदिवासी महिला को सरकारी एंबुलेंस नहीं मिली, दलदली रास्ते में निजी गाड़ी भी फंस गयी तो महिलाओं ने एक किमी तक उठाकर पहुंचाया. यह तसवीर पश्चिमी सिंहभूम जिले के मझगांव विधानसभा क्षेत्र के मंझारी प्रखंड के एक गांव की है. इस गर्भवती महिला मालती तामसोय को गांव की औरतें उठा कर निजी वाहन की तरफ ले जा रही हैं, जो गांव से एक किलोमीटर दूर है. प्रसव पीड़ा से छटपटाती मालती को सरकारी एंबुलेंस नहीं मिली. घरवालों ने प्राइवेट गाड़ी मंगाई लेकिन गांव तक जानेवाली कच्ची सड़क बरसात में दलदल बन गयी है. वह भी गांव नहीं पहुंच सकी तो इस गर्भवती महिला को उठाकर गाड़ी कर ले जाना पड़ा. इसके बाद महिला को अस्पताल पहुंचाया गया.