आदिम जनजातियों एवं राशन कार्डधारियों को गोल्डन कार्ड में पंजीकरण कराना कराएं सुनिश्चित: उपायुक्त

पलामू जिले के 18,19,280 राशन कार्डधारियों एवं 3733 आदिम जनजाति परिवारों को आयुष्मान भारत योजना से किया जाएगा अच्छादित, सभी का बन रहा गोल्डन कार्ड
बायोमैट्रिक डाटा अथवा थम्ब कैप्चर नहीं होने पर भी बनेगा गोल्डन कार्ड, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में की गई है ऑफलाइन की भी व्यवस्था
प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत 5 लाख का नि:शुल्क इलाज की है सुविधा,  जिलेभर के 111 अस्पताल हैं सूचीबद्ध
मेदिनीनगर: आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत लाभुकों को गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराने को लेकर पलामू जिला प्रशासन कवायद तेज कर दी है। इस योजना के अंतर्गत लक्षित लाभुकों को शत प्रतिशत गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराते हुए उन्हें चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने की योजना है। पलामू उपायुक्त श्री शशि रंजन ने जिले में निवास करने वाले आदिम जनजातियों एवं राशन कार्डधारियों को शीघ्र गोल्डन कार्ड में पंजीकरण सुनिश्चित कराने का निदेश दिया है। जिले के 18,19,280 राशन कार्डधारियों एवं 3733 आदिम जनजाति परिवारों को आयुष्मान भारत योजना से अच्छादित किये जाने की योजना है। इन सभी का गोल्डन कार्ड बनाया जा रहा है।
जिन लाभुकों का बायोमैट्रिक डाटा अथवा थम्ब कैप्चर नहीं हो पा रहा है, उन्हें भी घबराने की आवश्यकता नहीं है। इनके लिए पलामू के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में ऑफलाइन की भी व्यवस्था की गई है। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत 5 लाख का नि:शुल्क इलाज की सुविधा है। इलाज के लिए जिलेभर में 111 अस्पताल सूचीबद्ध हैं। वहीं राज्य में 647 अस्पतालों एवं देशभर के लगभग 1600 सूचीबद्ध (सरकारी एवं निजी) अस्पतालों में 1408 बीमारियों के नि:शुल्क इलाज कराया जा सकता है। इस योजना से आम नागरिकों को मुश्किल घड़ी में राहत मिल रही है। इस योजना के अंतर्गत आदिम जनजाति लाभुकों को शत प्रतिशत गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराए जाने की योजना है।

चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने हेतु लाभुकों के पास गोल्डन कार्ड होना आवश्यक

पलामू उपायुक्त श्री शशि रंजन ने जिले के लक्षित राशन कार्डधारियों का आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत गोल्डन कार्ड में पंजीकरण कराने का निर्देश दिया है। वहीं जिले के आदिम जनजाति लाभुकों को शत-प्रतिशत गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया है। इस योजना अंतर्गत लाभुकों को चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने हेतु लाभुकों के पास गोल्डन कार्ड होना अति आवश्यक है। पलामू जिले के 1819280 राशन कार्डधारियों का आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत गोल्डन कार्ड में पंजीकरण किया जाना है।

राशन कार्डधारियों के गोल्डन कार्ड में पंजीकरण के प्रगति की समीक्षा करें जिला आपूर्ति पदाधिकारी
उन्होंने कहा है कि जिले के सभी जन वितरण प्रणाली के दुकानदारों के साथ कॉमन सर्विस सेंटर (प्रज्ञा केंद्र) को टैग किया जा चुका है। सभी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी अपने क्षेत्र के  पीडीएस डीलर के अंतर्गत वैसे राशन कार्डधारी, जिनका गोल्डन कार्ड नहीं बना है, उन्हें चिन्हित करते हुए निकटतम/ टैग प्रज्ञा केंद्र के माध्यम से गोल्डन कार्ड के लिए पंजीकरण करवाने के लिए निर्देशित करें। उपायुक्त ने जिला आपूर्ति पदाधिकारी को इसकी नियमित मॉनिटरिंग एवं गोल्डन कार्ड के पंजीकरण के प्रगति की समीक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।
1 सप्ताह के भीतर सभी आदिम जनजातियों को शत-प्रतिशत गोल्डन कार्ड में पंजीकरण करायें सुनिश्चित
पलामू जिला में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत आदिम जनजाति के 3733 परिवारों  के लाभुकों को शत-प्रतिशत गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराया जाना है। उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे अपने-अपने प्रखंड में विशेष अभियान चलाकर 1 सप्ताह के भीतर सभी आदिम जनजातियों को शत-प्रतिशत गोल्डन कार्ड में पंजीकरण सुनिश्चित करायें।  इसके लिए आदिम जनजाति के चिन्हित पंचायतों/ गांवों में प्रज्ञा केंद्र संचालकों को टैग किया गया है।
आपसी समन्वय के साथ करें कार्य
उपायुक्त श्री शशि रंजन ने आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अनुरूप सभी संबंधित पदाधिकारी कर्मियों को आपसी समन्वय के साथ कार्य करने के लिए निर्देशित किया है, ताकि लक्षित राशन कार्डधारियों एवं आदम आदिम जनजाति परिवारों का शत-प्रतिशत गोल्डन कार्ड में पंजीकरण कराया जा सके। उन्होंने कहा है कि जिनका आधार बनाते समय बायोमैट्रिक डाटा कैप्चर नहीं किया गया था अथवा थम्ब कैप्चर नहीं हो पा रहा है। वैसे बच्चों एवं वरिष्ठ नागरिकों के लिए जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर आयुष्मान मित्रों के द्वारा ऑफलाइन मोड एवं विशेष परिस्थिति में इनके आईडी से पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। उन्होंने सभी आयुष्मान मित्र को पंजीकरण कार्य को सक्रिय रूप से करने का निदेश दिया है। साथ ही सिविल सर्जन को इसके प्रगति की समीक्षा नियमित रूप से करने का निदेश दिया है।
उपायुक्त ने कहा है कि कॉमन सर्विस सेंटर/ प्रज्ञा केंद्र संचालक के तकनीकी दिक्कतों एवं समन्वय स्थापित करने में आ रही कठिनाइयों के लिए डिस्टिक मैनेजर सीएससी जिला ई-गवर्नेंस सोसायटी पलामू से संपर्क कर आयुष्मान कार्ड के पंजीकरण से संबंधित जानकारी ली जा सकती है।
उपायुक्त श्री शशि रंजन ने आम नागरिकों से अपील किया है कि आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत गोल्डन कार्ड का पंजीकरण करायें। इसके लिए जन वितरण प्रणाली के दुकानदारों से संपर्क कर उनसे आवश्यक सहयोग भी ले सकते हैं।