15 हजार रुपये घूस लेते रोजगार सेवक को एसीबी ने किया गिरफ्तार

चतरा/सिमरिया। जिले के सिमरिया प्रखंड के पीरी पंचायत में पदस्थापित रोजगार सेवक संतोष सिंह को 15 हजार रुपये रिश्वत लेते भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने बुधवार को रंगे हाथ गिरफ्तार किया। एसीबी के द्वारा जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि रोजगार सेवक द्वारा तालाब निर्माण में लाभुक से राशि निकासी के एवज में 50000 रुपए रिश्वत की मांग की गई थी। नरेगा के तहत लाभुक के खेत में तालाब निर्माण के लिए चार लाख 98 हजार 216 रुपये स्वीकृत हुआ था। जिसमें से लाभुक को मात्र एक लाख 75 हजार रुपये का ही भुगतान हुआ था। शेष राशि के भुगतान के लिए लाभुक ने रोजगार सेवक से मुलाकात की तो उसने 50 हजार रुपये अग्रीम देने की मांग कर दी, तो लाभुक ने इसकी शिकायत एसीबी के प्रमंडलीय कार्यालय हजारीबाग में की और सत्यापन में मामला सही पाए जाने के बाद एसीबी की टीम ने बुधवार को नाटकीय ढंग से रोजगार सेवक को रिश्वत की पहली किस्त के रूप में 15 हजार रुपये लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार रोजगार सेवक चतरा जिले के हंटरगंज थाना क्षेत्र के डाटम गांव का रहने वाला है।