लंबित योजनाएं जल्द पूरा नहीं होने पर संबंधित अधिकारियों पर होगी कार्रवाई: डीसी

गोड्डा से अभय पलिवार की रिपोर्ट

गोड्डा: समाहरणालय स्थित सभागार में उपायुक्त भोर सिंह यादव की अध्यक्षता में मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), स्वच्छ भारत मिशन अन्तर्गत योजनाओं एवं कार्यों की विस्तृत समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई। समीक्षा के क्रम में सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, प्रखण्ड कार्यक्रम पदाधिकारी को जल्द से जल्द लंबित योजनाओं में प्रगति लाने का निर्देश दिया गया। उपायुक्त ने निर्देश दिया कि लक्ष्य प्राप्ति में सुधार किया जाए। इसमें अपेक्षित परिणाम नहीं मिलने पर संबंधित के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही मौके पर उपस्थित प्रखण्ड विकास पदाधिकारियों को चालू योजनाओं की अपने स्तर पर समय-समय पर समीक्षा करने का भी निर्देश दिया गया।

बैठक में सम्बंधित पदाधिकारियो को मनरेगा एवं प्रधानमंत्री आवास योजना अन्तर्गत लंबित योजनाओं को ससमय निष्पादन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया। उन्होने कहा कि योजना का चयन एवं क्रियान्वयन निश्चित समय अवधि में पूर्ण हो इसे सभी बीपीओ, पंचायत सेवक, रोजगार सेवक सुनिश्चित कराएं महोदय ने सभी ब्लॉक कोऑर्डिनेटरों को निर्देश देते हुए कहा कि फील्ड विजिट कर कार्यों को यथाशीघ्र पूर्ण कराएं एवं दिए गए टारगेट के अनुरूप कार्य को जल्द से जल्द पूरा करें। उपायुक्त ने ब्लॉक कोऑर्डिनेटरों से कहा कि कार्यों को लेकर किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उपायुक्त ने ने विभिन्न प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारियों को भी निर्देश देते हुए कहा कि पेंडिंग पड़े योजनाओं को जल्द से जल्द अपने स्तर से जांच कर संबंधित विभाग के अधिकारियों के साथ समय-समय पर समीक्षा बैठक करें।

भोर सिंह यादव ने प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण को लेकर विभिन्न प्रखंडों के ब्लॉक कोऑर्डिनेटर से कहा कि आधार सीडिंग को लेकर विभिन्न प्रखंडों के परफॉर्मेंस खराब हैं इस पर विशेष रूप से ध्यान दें। साथ ही उपायुक्त ने विभिन्न प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारी/संबंधित अधिकारियों को बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास पर भी विशेष रुप से ध्यान देने को कहा। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास में पेंडिंग योजनाओं को जल्द से जल्द पूरा करें। उपायुक्त ने बैठक में वीर शहिद पोटो हो खेल विकास योजना को लेकर संबंधित पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि काफी सारी योजनाएं जो जिले में चलाएं जा रहे है उन्हें यथाशीघ्र पूर्ण करें। बैठक में उपायुक्त  ने कहा कि उक्त सभी योजनाओं में गोड्डा जिले का परफॉर्मेंस राज्य स्तर पर बेहतर हो इस पर विशेष ध्यान देने की जरुरत है।

उक्त बैठक में आंगनबाड़ी से संबंधित विषयों पर उपायुक्त ने कहा कि सरकार द्वारा जो नक्शा (डिजाइन) है उसके अनुरूप ही आंगनबाड़ी केंद्र का निर्माण करेंगे। अपने अनुसार कोई नया डिजाइन तैयार नहीं किया जाएगा अगर इस तरह की बातें सामने आती है तो सारी जिम्मेदारी प्रखंड विकास पदाधिकारियों की होगी। जितने भी आंगनबाड़ी केंद्र बनाए जा रहे हैं संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी उनकी जांच करेंगे एवं जांच रिपोर्ट फोटोग्राफ्स के साथ अधोहस्ताक्षरी के समक्ष प्रस्तुत करेंगे। वैसे मनरेगा कर्मी जो एक जगहों पर 3 साल से ज्यादा समय तक प्रतिनियुक्त हैं उन्हें विभिन्न प्रखंडों में हस्तांतरित किए जाएं।

उपायुक्त  ने स्वच्छ भारत मिशन के समीक्षा के दौरान कहा कि पंचायतवार जहां पर काम कम किया गया है उनकी समीक्षा प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने स्तर से करें। साथ हीसंबंधित अधिकारियों से कहा कि किए गए कार्यों का भुगतान जल्द से जल्द करें। स्वच्छ भारत मिशन में UC की स्थिति खराब है इसको लेकर सभी जिला SBM कोऑर्डिनेटरो को जल्द से जल्द अपेक्षित सुधार लाने का निर्देश दिया। साथ ही संबंधित अधिकारियों से कहा कि पेंडिंग कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करें।

मौके पर उप विकास आयुक्त चंदन कुमार, विभिन्न प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी अभय कुमर, डीआरडीए के एमआईएस नोडल गौतम कुमार सहित सबंधित विभाग के अन्य लोग मौजूद थे।