अपर समाहर्ता ने अंचलाधिकारियों के साथ की बैठक

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में अपर समाहर्ता सादात अनवर ने शनिवार को सभी अंचलाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में अपर समाहर्ता ने विभिन्न विभागों से अंचल क्षेत्र में भूमि के लिए प्राप्त अधियाचना पर विस्तार से चर्चा की। कहा कि जहां भूमि चिन्हित कर दिया गया है, उसका अविलंब अंचलाधिकारी प्रतिवेदन जिला कार्यालय को समर्पित करें। वहीं, प्राप्त अधियाचना के बाद भी अब तक भूमि चिन्हित की कार्रवाई नहीं की गई है। उसे अविलंब चिन्हित कर कार्यालय को प्रतिवेदन समर्पित करें। कहा कि आने वाले दिनों में उपायुक्त इसकी समीक्षा करने वाले है इसलिए प्रदर्शन में सुधार लाएं। किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

बैठक में सीसीएल से संबंधित रजरप्पा ब्लाक टू कोल परियोजना, पिछड़ी कोल ब्लाक भूमि सत्यापन, कारो कोल परियोजना अंतर्गत बड़कीकुड़ी मौजा में भूमि सत्यापन का कार्य, कोतरे बंसंतपुर पचमों कोल परियोजना फोर एच से संबंधित। ओएनजीसी से संबंधित गोमिया अंचल अंतर्गत मौजा हजारी में ड्रील साईट निर्माण हेतु लीज बंदोबस्ती अभिलेख का त्रुटि निराकरण, मौजा गोमिया में कुआं निर्माण हेतु संपर्क पथ के लिए बंदोबस्ती अभिलेख के त्रुटि निराकरण। एनएचएआइ से संबंधित एलएच 32 परियोजना, भारतमाला परियोजना। रेलेवे से संबंधित तेलगड़िया – बोकारो आद्रा डिविजन रेल परियोजना। बिजली ट्रांसमिशन लाइन से संबंधित 133 केवी डबल सर्किंट ट्रांसमिशन लाइन हेतु गैरमजरूआ खास, आम, जंगल – झाड़ी भूमि का अपयोजना के लिए एनओसी। पेयजल एवं स्वच्छता विभाग से संबंधित भूमि अधियाचना एवं सोलर पार्क की स्थापना हेतु भूमि चिन्हित आदि पर विस्तार से चर्चा हुई और जरूरी दिशा – निर्देश दिया।

बैठक में वित्तीय वर्ष 21-22 के लिए विभाग से प्राप्त राजस्व लक्ष्य के अनुरूप रणनीति बनाकर काम करने को कहा। कहा कि पूर्व में कोविड के कारण सरकार का राजस्व संग्रह प्रभावित हुआ है। इसलिए अभी से राजस्व संग्रह में तेजी लाने को कहा। वहीं, लंबित दाखिल – खारीज के आवेदनों को अभियान मोड में निष्पादित करने को कहा।

बैठक में सभी अंचलों गोमिया, चंद्रपुरा, कसमार, पेटरवार, चास, बेरमो, चंदनकियारी, नावाडीह एवं जरीडीह के अंचलाधिकारी एवं अंचल निरीक्षक भी उपस्थित थे।