27 मई तक न्यायिक कार्यों से अलग रहेंगे अधिवक्ता

गोड्डा: जिला अधिवक्ता संघ के कार्यकारिणी सदस्यों की वर्चुअल बैठक सोमवार को संघ के अध्यक्ष सुशील कुमार झा की अध्यक्षता में हुई। सर्वसम्मति से प्रस्ताव लिया गया कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण से बचाव के लिए अधिवक्तागण 27 मई 2021 तक न्यायिक कार्यों से अपने आपको अलग रखेंगे ।
इस फैसले की सूचना प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं स्टेट बार कौंसिल को भेज दी गई है। झारखंड सरकार के लॉक डाउन एवं गोड्डा में भी कई अधिवक्ता एवं उनके परिवार के सदस्यों के निधन को देखते यह निर्णय लिया गया है। बैठक में संघ के अध्यक्ष के अलावा महासचिव योगेश चंद्र झा, उपाध्यक्ष सीताराम यादव , प्रशासनिक सचिव चेतन चंद्र झा, कोषाध्यक्ष अरविंद मिश्रा ,सहायक कोषाध्यक्ष अजीत वर्मा के अलावा कार्यकारिणी सदस्य अंबोद ठाकुर, विनय ठाकुर ,प्रमोद पंडित ,सुधीर पाठक आदि सदस्य ऑनलाइन जुड़े और अपने अपने विचार रखे ।
महासचिव योगेश चंद्र झा ने बताया कि राज्य के रांची बार, धनबाद ,गिरिडीह ,हजारीबाग ,
गढ़वा, रामगढ़ ,सरायकेला, चाईबासा ,दुमका, देवघर, तेनुघाट संघ के अधिवक्ता गण भी संक्रमण को देखते हुए एवं अधिवक्ताओं के सुरक्षा के हित में न्यायिक कार्यों से अपने आपको अलग रखने का निर्णय लिए हैं। क्योंकि राज्य सरकार ने 27 मई तक स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के नियमों को कड़ा कर दिया है।अनावश्यक आवागमन पर अंकुश लगा रखा है। पूरे राज्य में सैकड़ो अधिवक्ताओं की मृत्यु भी हुई है। उपरोक्त परिस्थिति को देखते हुए एवं अधिवक्ता सदस्य , उनके परिवारों के जीवन को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए यह निर्णय लिया गया है। संघ के अधिवक्ताओं की सुरक्षा सर्वोपरि है ।इससे अधिवक्ताओं के हित के अलावा आम नागरिकों की भी भलाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *