30 मई तक न्यायिक कार्य से अलग रहेंगे अधिवक्ता

रामगढ : 17 मई से न्यायिक कार्यों के निष्पादन संबंधित निर्णय हेतु झारखंड स्टेट बार कौंसिल द्वारा झारखंड के प्रत्येक जिला के अधिवक्ता संघ को उस जिला के कोरोना के परिस्थिति अनुसार सभी सदस्यों से व्हाट्सएप एवं फोन से रायशुमारी कर संघ के तदर्थ कमेटी को निर्णय लेने हेतु अधिकृत किया गया था । जिसके आलोक में जिला अधिवक्ता संघ रामगढ़ के अध्यक्ष आनंद अग्रवाल द्वारा वर्तमान कोरोना के माहौल के कारण 17 माई से न्यायिक कार्यों के निष्पादन संबंधित विषय पर जिला अधिवक्ता संघ रामगढ़ के अधिवक्ताओं से व्हाट्सएप एवं फोन पर रायशुमारी की गई थी ।जिसके तहत सभी अधिवक्ताओं का यह मत आया कि वर्तमान कोरोना की स्थिति को देखते हुए 30 मई तक वर्तमान स्थिति को यथावत रखा जाए।अधिवक्ता साथियों की राय आने के पश्चात संघ के तदर्थ कमेटी के सदस्य अध्यक्ष आनंद अग्रवाल महासचिव सीताराम कोषाध्यक्ष हरखनाथ महतो द्वारा विचार विमर्श कर यह महसूस किए जाने पर की रामगढ़ जिला में वर्तमान में कोरोना का कहर विकराल रूप ले चुका है एवं यदि इस चैन को नहीं तोड़ा गया तो निश्चित रूप से आम जनों के साथ साथ अधिवक्ताओं को भी काफी नुकसान होगा।इसलिए तदर्थ कमेटी ने सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया है कि वर्तमान स्थिति को ही 30 मई तक यथावत रखते हुए अधिवक्तागण न्यायिक एवं मिसलेनियस कार्य से अपने आप को अलग रखेंगे।इस संबंध में व्यवहार न्यायालय रामगढ़ एवं स्टेट बार काउंसिल, रांची को भी सूचना प्रेषित की गई है। सर्वसम्मति से यह भी निर्णय लिया गया है कि यदि बीच में कोराना के हालातों में सुधार होता है तो उपरोक्त निर्णय में आंशिक संशोधन करते हुए नया निर्णय लिया जा सकेगा।तदर्थ कमेटी के सदस्यगण अध्यक्ष आनंद अग्रवाल महासचिव सीताराम कोषाध्यक्ष हरखनाथ महतो है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *