फी वृद्धि के खिलाफ आइसा ने मजदूर किसान महाविद्यालय का घेराव किया

पांकी से लौकेश सिंह की रिपोर्ट

पांकी: पांकी प्रखंड के मजदूर किसान महाविद्यालय डंडार कला में फ्री वृद्धि के खिलाफ ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन आइसा के नेतृत्व में सैकड़ों छात्र छात्राएं ने प्राचार्य कक्षा घेराव किया।मालूम हो कि मजदूर किसान महाविद्यालय में प्रोपेक्टस के तय के अनुसार से ज्यादा पैसा लिया जा रहा है।मौके पर आइसा राज्य त्रिलोकीनाथ ने कहा कि यहां पर मजदूर, किसान ,मध्य वर्ग के छात्र नामांकन लेते हैं.ग्रेजुएशन के लिए सरकारी महाविद्यालय नहीं होने के कारण गरीब छात्र नामांकन लेने से वंचित हो जाते हैं. पांकी के कुछक छात्र ही नामांकन ले पाते है।दूसरी तरफ कोरोना महामारी के वजह से लगातार आर्थिक तंगी हो रही है.
ऐसे समय में कॉलेज फी स्ट्रक्चर अनुसार के तय से ज्यादा छात्रों से पैसा वसूलना यानी छात्रों के भविष्य के साथ खेलवाड़ करना हैं।लागतार पैसा बढ़ने से यहां के छात्रों को शिक्षा से वंचित होना पड़ेगा. खास कर के लड़कियों को.प्राचार्य घेराव के बाद छात्रों का प्रतिनिधिमंडल प्राचार्य से वार्ता किया और मांग किया कि,कोरोना महामारी मेंआर्थीक तंगी को देखते हुए फी कम किया जाए. और प्रोपेक्टस के अनुसार छात्रों पर फी लागू किया जाएं।.
बोनाफाइड के लिए छात्रों से पैसा वसूलना बंद किया जाएं.
लाइब्रेरी से बिना देरी कीए किताब उपलब्ध कराओ।प्राचार्य प्रेमचंद महतो ने कहा कि छात्रों का मांग शासिनिकाय की बैठक में रखा जाएगा. बिना देरी कीए लाइब्रेरी से किताब उपलब्ध कराया जाएगा।मौके पर प्रतिनिधि मंडल में त्रिलोकीनाथ ,गुड्डू कुमार, श्रवण कुमार ,नीतीश कुमार,संपत कुमार के अलावे प्रदर्शन में प्रेम कुमार कैफ,धर्मेंद्र कुमार,अशोक सहित सैकड़ों छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।