आइसा ने जैक द्वारा जारी परिणाम में भारी अनियमितता का आरोप लगाते हुए मजदूर किसान इंटर काॅलेज में किया प्रदर्शन

पांकी से लौकेश सिंह की रिपोर्ट

पांकी: पांकी प्रखंड के मजदूर किसान महाविद्यालय डंडार कला में ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन आइसा ने जैक बोर्ड द्वारा रिजल्ट में अनियमिता बरतने के खिलाफ राज्यव्यापी प्रदर्शन का आह्वान किया है जिसके तहत मजदूर किसान इंटर महाविद्यालय गेट के समाने छात्रों ने पोस्टर लेकर प्रदर्शन किया.
मौके पर आइसा राज्य सचिव त्रिलोकी नाथ ने कहा कि कोरोना माहामारी के वजह से पिछले डेढ़ साल से शिक्षण संस्थानों को बंद रखा गया हैं. शिक्षण संस्थानों को बंद होने के कारण सरकार ने बिना परीक्षा लिए छात्रों को प्रमोट करने का निर्णय लिया जो स्वागतयोग्य हैं.लेकिन 11वी के कुछ छात्रों को 12वीं में फेल कर दिया है. वही9 वी के कुछ छात्रों को दसवीं में फेल कर दिया हैं.
आखिर बिना परीक्षा के अधिक छात्रों को पास कर दिए तो कुछ छात्रों को कैसे फेल किया गया?.
जब छात्रों को फेल करना था तो11वी और9 में क्यों प्रमोट किया गया?वहीं दूसरी दुसरी तरफ कॉलेज और स्कूल में लिया गया समीक्षात्मक परीक्षा का अंक को परीक्षाफल में क्यों नहीं जोड़ा गया?जब जोड़ना नहीं था तो क्यों परीक्षा लिया गया?.जैक बोर्ड द्वारा दोहरी नीति का निर्णय बहुत से छात्रों का भविष्य अंधकार में ले जाएगा. जैक बोर्ड दोहरी नीति को वापास कर छात्रों का मांग को सुने अन्यथा आइसा सड़कों पर उतर कररोषपूर्ण प्रर्दशन करेगी।

छात्रों का मांग है कि 9 वी और11 वी पास छात्रों को सभी को पास करो. समीक्षात्मक अंक को परीक्षाफल में जोडने की गारंटी करो. जैक द्वारा फिर से असफल विधार्थियों को फिर से परीक्षा देने की फरमान वापास ले।प्रदर्शन में दिपिका कुमारी, अमीत कुमार, रानी कुमारी,धर्मेंद्र कुमार सहित अन्य लोग उपस्थित थे।