जरूरतमंद दबे, कुचले की आवाज थे अंबेडकर : रविकांत

अरगड्डा में समाजसेवियों ने पत्रकार दिवस पर बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर को किया याद

सिरका : अरगड्डा के बाजार सुभाष नगर स्थित डॉ भीमराव अंबेडकर स्थल के समक्ष राष्ट्रीय पत्रकार दिवस के अवसर पर मंगलवार संध्या इंडियन रिपोर्टरस एसोसिएशन(ईरा) सदस्यो और समाजसेवियों ने श्रद्धांजलि अर्पित कर बाबासाहेब को याद कर नमन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता ईरा के जिला रामगढ़ अध्यक्ष सह कोयलांचल के वरीय पत्रकार विजय कुमार सिन्हा ने की। जबकि संचालन अरगड्डा वार्ड 13 प्रतिनिधि रंजीत पासवान ने किया। अवसर पर मुख्य रूप से ईरा के राज्य संगठन सचिव रविकांत बनर्जी उपस्थित हुए। सभी सामाजिक वक्ताओं ने अपनी बातें रखी। संबोधन में ईरा राज्य संगठन सचिव रविकांत बनर्जी ने कहां कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर पत्रकार समाज से जुड़े थे, उन्होंने गरीब- गुरबो व जरूरतमंद जनता के लिए 1920 के दशक में 4 अखबारों के माध्यम से लोगों को जागरूक करने का काम किया था। उन्होंने अपने लेखन से ब्रिटिश काल में हक और अधिकार के लिए आंदोलन छेड़ा था। अछूत और छुत की भेदभाव पर लगातार अपनी आवाज पत्रकारिता के माध्यम से बुलंद करते रहे, आजाद भारत के संविधान रचयिता और भारत रत्न से भी बाबा साहब को सम्मानित किया गया। उन्होंने समाज के लिए खुद क्षति सहकर आने वाले भविष्य के स्वर्णिम इतिहास को लिखा। इनके द्वारा रचित संविधान के बदौलत हम सभी को अपने अधिकार लगातार प्राप्त हैं। वहीं समाजसेवी रंजीत पासवान ने भी आने वाले भविष्य में अरगड्डा अंबेडकर स्थल का सुंदरीकरण और भव्य तरीके से कार्यक्रम आयोजित करने का भी आह्वान किया। मौके पर वरीय पत्रकार राजकुमार शर्मा, तपन बनर्जी, मो. शाहीद, समाजसेवी कार्तिक पासवान, रंजीत पासवान पंकज पटवा, अमित राम, राजेश बेदिया, दीपक उरांव, शिवम पिल्ले, अमित सागर, इकरार अहमद, आर. राम, हिमांशु पासवान, चलित्र यादव, सुमन ठाकुर ,मनोज चौहान, नितेश नायक, सीताराम पासवान, दिलदार समेत कई ग्रामीण उपस्थित थे।