चतरा की तीसरी महिला डीसी हुई अंजली यादव, चार डीडीसी भी रह चुके हैं प्रभारी डीसी

डीएन तिवारी (बाबा)
चतरा। चतरा जिले के निर्माण से लेकर अबतक तीन महिला आईएएस अधिकारी उपायुक्त बनी। 2016 बैच की युवा आईएस अधिकारी अंजली यादव चतरा में तीसरी महिला उपायुक्त बनी हैं। ज्ञात हो कि इससे पूर्व गोड्डा में श्रीमती यादव उप विकास आयुक्त थीं। करीब 16 वर्ष पहले महिला उपायुक्त के रुप में 13 वर्ष पूर्व पूजा सिंघल पुरवार व 16 वर्ष पूर्व हिमानी पांडेय चतरा में सेवा दे चुकी हैं। श्रीमती पांडेय करीब 14 माह एवं श्रीमती पुरवार का कार्यकाल करीब 10 माह का रहा था। जबकी श्रीमती यादव तीसरी महिला के रुप में उपायुक्त बनी। वहीं झारखंड राज्य गठन के बाद चतरा के पहले डीसी हीरा लाल का कार्यकाल 15 नवंबर 2000 से लेकर 27 नवंबर 2000 तक रहा। वहीं राज्य गठन के बाद जिले में अब तक चार डीडीसी सत्यदेव सिंह, आरएन पांडेय, सुकरा उरांव व बाबू राम मुर्मू प्रभारी डीसी के रुप में रह चुके हैं। वहीं आरएन पांडेय एवं बाबू राम मुर्मू को दो-दो बार उपायुक्त के प्रभार में रहने का मौका मिला था।

36 वें उपायुक्त के रूप में आईएएस अधिकारी अंजली यादव ने दिया योगदान, कहा विकास कार्यों को आगे ले जाना पहली प्राथमिकता

जिले के 36 वें उपायुक्त के रूप में बुधवार को 2016 बैच की युवा आईएएस अधिकारी अंजली यादव ने योगदान दिया। श्रीमती यादव ने निवर्तमान उपायुक्त दिव्यांशु झा ने समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में प्रभार ग्रहण किया। इस अवसर पर नवनियुक्त उपायुक्त ने निवर्तमान उपायुक्त द्वारा चतरा जिला में किए गए कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि इनके द्वारा जिले में किए गए विकास कार्यो को गति देने का प्रयास करेंगी। वहीं मीडिया को संबोधित करते हुवे कहा कि जिले के स्वास्थ्य, शिक्षा, विद्युत समेत अन्य मूलभूत समस्याओं का समाधान एवं व्यवस्थओं को दुरुस्त कराना पहली प्राथमिकता रहेगी। साथी ही अपने कार्यकाल में जिले को विकास के रास्ते पर ले जाने का हर संभव प्रयास करने की भी बात कही। इसके उपरांत पुलिस अधीक्षक ऋषव कुमार झा, उप विकास आयुक्त सुनील कुमार सिंह, अपर समाहर्ता संतोष कुमार सिन्हा, सदर एसडीओ मुमताज अंसारी, सिमरिया एसडीओ सुधीर कुमार दास समेत अन्य ने निवर्तमान एवं नवनियुक्त उपायुक्त को पुष्प भेंट किया। साथ हीं सभी ने पूर्व के भांति बतौर टीम के रूम में आगे भी कार्य करने की बात कही। उसके बाद मौके पर नवनियुक्त उपयुक्त ने पूरी टीम से परिचय लेने के साथ विभिन्न विषयों पर चर्चा की।’