पांच माह से बकाया वेतन की मांग को ले एएनएम ने किया कार्य बहिष्कार

पथरगामा: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पथरगामा में कार्यरत एएनएम ने अपनी मांगों को लेकर सोमवार को एक दिन के लिए कार्य का बहिष्कार किया। कार्य का बहिष्कार कर एन एच एम के तहत नियुक्त चिकित्सक और एएनएम स्वास्थ्य केंद्र के गेट पर अपनी मांगों के समर्थन में बैठी रही। कार्य बहिष्कार को लेकर एएनएम ने चिकित्सा प्रभारी को एक दिन पूर्व शानिवार को इसकी लिखित सूचना भी दी थी। प्रखंड अध्यक्ष पिंकी कुमारी ने बताया कि पिछले पांच माह से वेतन नहीं मिला है। जिसके कारण आर्थिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। अभी बड़ा और महत्वपूर्ण पर्व दिवाली आने वाला है। अगर दिवाली से पहले वेतन नहीं मिला तो दिवाली जैसे खुशी का पर्व फीका रह जायेगा। प्रखंड अध्य्क्ष ने बताया कि इसके अलावा एक साल का एरियर का भुगतान नहीं हुआ है। इंसेंटिव के अलावा पांच सालों से अंटायर्ड फण्ड भी नहीं मिला है। अध्य्क्ष ने बताया कि एक दिन के सांकेतिक कार्य बहिष्कार के बाद प्रशासान ने इस ओर ध्यान नहीं दिया तो अगले पांच दिन बाद सभी एएनएम अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने को मजबूर होगी। मौक़े पर डॉ रोहित रंजन, डॉ माधव कुमार झा, डॉ जेपी मुर्मू के अलावा संजू, मंजू, सुजाता, विभा, मीना, नम्रता, बिंदु, गीता, शिला, सुनीता नीलम, शोभा, दयमंती, रीना, चंदा, रीता, रंजना, सावित्री, सहित अन्य मौजूद थे।
क्या कहते है चिकित्सा प्रभारी– डॉ आरके पासवान ने कहा कि अभी फण्ड नहीं आया है। जिसके कारण भुगतान नहीं हुआ है। फण्ड आते ही राशि का भुगतान कर दिया जायेगा।
क्या कहते है सिविल सर्जन– डॉ मंटू टेकरीवाल सोमवार को राजाभिठा जाने के क्रम में पथरगामा अस्पताल पंहुचे थे। जहाँ कार्य का बहिष्कार कर रहे एएनएम के प्रतिनिधि मंडल ने सीएस से मुलाकात कर अपनी मांगों को रखी। इस पर सीएस डॉ मंटू टेकरीवाल ने कार्य का बहिष्कार कर रहे एएनएम को आश्वस्त किया कि जल्द जिला से फण्ड प्रखंड को भेजा जाएगा। ताकि आप सभी का वेतन का भुगतान हो सके। अन्य मांगों पर भी उन्होंने निदान का भरोसा दिलाया।