शौण्डिक धर्मशाला दुर्गा पूजा कमेटी में हुए विवाद का अनुसंधान करने पहुंचे एएसपी, पुछताछ कर दर्ज किया बयान

रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर: शहर के चांदमारी स्थित श्याम नारायण शौण्डिक धर्मशाला दुर्गा पूजा समिति के वर्तमान और पुराने कमेटी के बीच 15 अक्टूबर विजयादशमी के दिन दोपहर में मां दुर्गा प्रतिमा की आभूषणों को लेकर जमकर मारपीट और गालीगलौज हुआ था। जिसके बाद दोनों पक्षों की और से चक्रधरपुर थाना में लिखित शिकायत दी गई थी। जहां पर दुर्गा पूजा समिति के वर्तमान अध्यक्ष लक्ष्मण राम रवि ने उमेश गुप्ता, आशुतोष गुप्ता, विजय साव, गौतम साव, महेश गुप्ता और प्रताप मिस्त्री के उपर जाति सूचक शब्द बोल कर गालीगलौज करने का आरोप लगाया है। उसी का अनुसंधान करने के लिए मंगलवार को सहायक पुलिस अधीक्षक सह पोड़ाहाट अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी नाथूसिंह मिणा शौण्डिक धर्मशाला पहुंचे थे। मौके पर थाना प्रभारी प्रवीण कुमार भी मौजूद थे। एएसपी श्री मिणा ने समिति के अध्यक्ष लक्ष्मण राम रवि, सचिव कमलदेव गिरि समेत समिति के सदस्यों और आमजनों से पुछताछ करते हुए उनका बयान दर्ज किया। बता दें कि विजयादशमी के दिन मां दुर्गा की आभूषणों को लेकर दो पक्षों में मारपीट हुआ था। उसमें दोनों पक्षों की ओर से सदस्य घायल हुए थे। वहीं एक दूसरे पर आभूषणों की छीनताई करने का आरोप लगाया था। बाद में पुराने कमेटी द्वारा आभूषणों को चक्रधरपुर थाना में जमा किया था। फिलहाल देवी मां का आभूषण थाना के कस्टडी में है।