खूंटी परिसदन सभागार में विधानसभा सदाचार समिति की बैठक संपन्न

खूंटी : आज खूंटी परिसदन सभागार में विधानसभा की सदाचार समिति की बैठक आयोजित की गई । जिसमें समिति के सभापति विधायक केदार हाजरा की अध्यक्षता में खूँटी जिले के सम्बन्धित पदाधिकारियों के साथ बैठक हुई। जिसमें खूँटी जिले के सभी पदाधिकारियों से सम्बन्धित विभाग से अनुकंपा और पेंशन मामले पर जानकारियाँ ली। जिले में अनुकम्पा के कुल सात मामले लम्बित होने की बात जिले के अधिकारियों द्वारा समिति को बतायी गई। साथ ही, पेंशन मामले पर जिले के सम्बन्धित विभाग के पदाधिकारियों में से शिक्षा विभाग से जिला शिक्षा पदाधिकारी ने समिति को जानकारी दिया कि अवकाश प्राप्त शिक्षक का पेंशन पर एक भी मामला लम्बित नहीं है। लम्बित मामले में पुलिस विभाग से एक, जिला से एक, कृषि विभाग में दो, इसके अलावे उग्रवादी हिंसा में मारे गए लोगों के एक मामले लम्बित है।

विधानसभा सदाचार समिति के सभापति विधायक केदार हाजरा ने बताया कि पुलिस विभाग के कुल 08 मामले लम्बित है जिसमें कई मामलों में राज्य स्तर पर फैसला लेना है। जिसपर एडीजी के पास संबंधित संचिका भेजी गई है।
उन्होंने बताया कि उग्रवादी हिंसा में हताहत परिजनों को नौकरी और मुआवजे पर एक लाख रु नकद मुआवजा और एक नौकरी या फिर एकमुश्त तीन लाख रु देने का प्रावधान है।
इस दौरान समिति की बैठक में सदस्य, बहरागोड़ा विधायक समीर कु महान्ती, जिग्गा सुसारण होरो, डीडीसी अरुण कुमार सिंह, आईटीडीए परियोजना निदेशक संजय भगत, एसडीपीओ अमित कुमार समेत संबंधित विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे।