सहायक प्राध्यापक अनुबंध संघ की बैठक संपन्न, लिये गए कई महत्वपूर्ण निर्णय

रांची: झारखंड सहायक प्राध्यापक अनुबंध संघ की एक बैठक  गूगल मीट पर प्रदेश संरक्षक डॉ०एस०के०झा एवं राज्य के रांची विश्वविद्यालय, कोल्हान विश्वविद्यालय, विनोबा भावे विश्वविद्यालय,बीबीएमकेयू, नीलांबर – पीतांबर विश्वविद्यालय तथा एसकेएमयू के सैकड़ों शिक्षकों के उपस्थिति में संपन्न हुई।

बैठक में सर्वसम्मति से निम्न निर्णय लिया गया:

1.सरकार द्वारा बनाए गए”Statute on minimum qualification for appointment of teachers and others academic staff in universities and colleges and measures for the maintenance in Higher Education 2021,in persuanc in UGC-2018″ दिनांक:06.08.2021″में राज्य के अधीनस्थ सभी विश्वविद्यालयों में विगत चार वर्षों से कार्यरत घंटी आधारित अनुबंध सहायक प्राध्यापकों को सीधी नियुक्ति में अनुभव के लाभ से वंचित रखा जाना दुर्भाग्य पूर्ण है। जबकि इसका लाभ राज्य के बाहर के वैसे एडहाक, संविदा शिक्षक एवं तात्कालिक रुप से नियुक्त शिक्षकों को मिलेगा जिसे यूजीसी रेगुलेशन के अनुसार ग्रेड पे मिलता है।अतः यूजीसी रेगुलेशन2018 के अनुसार घंटी आधारित अनुबंध सहायक प्राध्यापकों को निश्चित मासिक मानदेय दिया जाए।इससे संबंधित मेमोरेंडम ताकि सीधी नियुक्ति में अनुभव का लाभ हो,राज्यपाल सह कुलाधिपति महोदय, माननीय मुख्यमंत्री महोदय तथा उच्च शिक्षा सचिव व निदेशक महोदय को सौंपा जायेगा।

2.सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि निश्चित मासिक मानदेय के साथ 65 वर्षों की उम्र तक नौकरी को सुरक्षित करने के लिए एक 11 सदस्यीय कमिटी (सभी विश्वविद्यालयों के शिक्षकों से मिलकर ) का गठन किया गया जो 10दिनों के अंदर सभी पक्षों को मेमोरेंडम सौंपेंगे और सरकार को घंटी आधारित अनुबंध सहायक प्राध्यापकों के तमाम समस्याओं से अवगत करायेंगें,साथ ही सरकार को ये भी अवगत करायेंगे कि छः महीने के सेवा विस्तार (30, सितंबर,2021तक) से उच्च शिक्षा में कार्यरत घंटी आधारित अनुबंध सहायक प्राध्यापक किस तरह मानसिक तनाव से बार बार गुजरते रहते हैं।

3.संघ की उक्त कमिटी सरकार से हुई सारी बातों को पुनः संघ की आगामी आयोजित होने वाली बैठक 25 अगस्त,2021 को प्रस्तुत करेंगे।तदुपरांत संघ पुनः विचार विमर्श कर आगे का निर्णय लेंगे।

4.राज्य में कार्यरत सभी विश्वविद्यालयों के घंटी आधारित अनुबंध सहायक प्राध्यापक एकजुटता के साथ ,मिशन मोड में कार्य करने का आह्वान बैठक में सम्मिलित सभी शिक्षकबंधुओ ने किया।

आज की इस बैठक में भाग लेने वाले डॉ०के०के०कमलेंदू, डॉ०अंजना सिंह,डॉ०धर्मेंद्र कुमार यादव, डॉ०कुमार सौरभ, डॉ०गोपीनाथ पांडेय डॉ ०यदुवंश प्रणय, डॉ ०सुरेश कुमार, डॉ०अब्दूर रहीम, डॉ०इंदूभूषण, डॉ०शालिग्राम मिश्रा, डॉ०दीपक कुमार, डॉ०सुमंत कुमार, डॉ०अन्नपूर्णा,डॉ०भवेश कुमार, डॉ०स्मिता गुप्ता, डॉ०रुपम कुमारी, डॉ०प्रभाष गोराई, डॉ०तेतरु उरांव, डॉ ०बिकलस पन्ना, डॉ०नरेंद्र दास,डॉ०जीवन कुमार, डॉ०राजेंद्र प्रसाद, डॉ०व्यास कुमार, डॉ ०वासुदेव प्रजापति, डॉ०आशुतोष पांडेय, डॉ ०वीणा शर्मा सहित सैकड़ों शिक्षकों ने भाग लिया।