भगैया-बाराहाट मुख्य सड़क पर भारी वाहनों के परिचालन पर लगी रोक

– सड़क किनारे निवास कर रहे लोगों ने ली राहत की सांस
– सड़क के दोनों छोर पर लगाया गया लोहे का बैरियर
मेहरमा से विजय कुमार की रिपोर्ट

मेहरमा : मेहरमा थाना क्षेत्र के पिरोजपुर-भगैया मुख्य सड़क में भारी वाहनों के परिचालन से रोड का हाल बदहाल हो गया है। बताया जाता है कि इस सड़क होकर प्रतिदिन हजारों की संख्या में बिहार के रास्ते चलने वाले अवैध छर्री व चिप्स से लदे ट्रक व हाइवा का परिचालन किया जाता है। जिससे सड़क के किनारे निवास करने वाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। सरकार को करोड़ों रुपए के राजस्व की 36 भी हो रही है। दिन के उजाला में काफी सड़क का डस्ट उड़ने के कारण गंभीर बीमारियों का आमंत्रण दिया जा रहा है। जिसकी जानकारी जिला के तमाम आला अधिकारियों को रहने के बावजूद ऐसे ओवरलोड वाहनों के विरुद्ध कोई कार्यवाही नहीं की जा रही थी। साथ ही इस सड़क में अधिक वाहन चलने के कारण हमेशा जाम की समस्या बनी रहती थी, जिसे लेकर आसपास के ग्रामीणों ने इसकी शिकायत जिला के आला अधिकारियों से की थी।
मामले की गंभीरता को भांपते हुए आला अधिकारियों ने संज्ञान लेकर इस पथ होकर भारी वाहनों का परिचालन बंद कराने का निर्णय लिया। बुधवार को सड़क के दोनों तरफ लोहे का बैरियर लगाकर पूरी तरह से भारी वाहन के परिचालन पर रोक लगा दिया गया।
प्रशासन की इस कार्रवाई से निकटवर्ती गांव के लोगों में काफी खुशी है। आसपास के ग्रामीणों ने बताया कि अब पूर्व की तरह लगने वाले जाम की समस्या से निजात मिलेगा। दूसरी तरफ वाहन मालिकों में भारी वाहन परिचालन पर रोक लगाने के कारण नाराजगी देखी गई । उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग को वाहन मालिक रोड टैक्स देते हैं ।इसके बावजूद वाहन परिचालन पर रोक लगा दी गई है जो चिंता की बात है। सरकार को इस पर उचित निर्णय लेकर वाहन परिचालन बंद किया जाना चाहिए।