कांड्रा में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया बहन-भाई के अटूट प्रेम का प्रतीक भैया दूज

कांड्रा से जी. कुमार की रिपोर्ट

कांड्रा। शनिवार को बहन-भाई के अटूट प्रेम का प्रतीक भैया दूज पर्व कांड्रा सहित आस पास के क्षेत्र में परंपरागत तरीके से मनाया गया। बहनों ने भाइयों के माथे पर तिलक लगाकर उनकी लंबी आयु की कामना की। वहीं भाइयों ने भी बहनों को उपहार भेंट कर उनके प्रति अपने प्रेम को दर्शाया

भाई-बहन के अटूट प्रेम गाथा की अमर कहानी प्रेम व स्नेह के प्रतीक का पर्व भैया दूज कांड्रा पंचायत के कांड्रा डोकाकुली बस्ती, कांड्रा बाजार,कांड्रा एसकेजी कॉलोनी,कांड्रा आजाद बस्ती, कांड्रा कंचन पाड़ा, लाहकोठी में शनिवार को हर्षोल्लास माहौल के बीच धूमधाम से मनाया गया। महिलाएं अपने भाई की लम्बी उम्र की कामना को लेकर पूजा अर्चना की। युवतियां व महिलाएं व्रत रख यमराज की पूजा की और यमराज का आह्वान कर उनसे अपने भाई की दीर्घायु होने की कामना की। सभी बहनों ने गोबर से बनाया यम-यमी, गोधन कूट भाई की लंबी उम्र की प्रार्थना की।
सुबह में बहनों ने सामूहिक पूजा की तैयारी कर गोबर से बनाया यम-यमी, गोधन कूट भाई की लंबी उम्र की प्रार्थना की। जहां उस पर रेंगनी का कांटा, गुड़ और चना आदि सामग्री रखकर कूटा गया। परंपरा तरीकों से बहनों ने पहले भाइयों को श्राप दिया और इसके बाद रेंगनी का कांटा अपनी जीभ में चुभोया। अंत में गोधन पर दूध, पानी, चूड़ा, पटौरा और चुकिया मिठाई चढ़ाई। बहनों ने भाईयों की दीर्घायु के लिए ईश्वर से कामना की। जगह जगह एकत्रित होकर भाइयों के स्वस्थ जीवन के लिए मंगल गीत गाते हुये पर्व को विधि पूर्वक संपन्न किया। भाई की लंबी उम्र के लिए उषा देवी,रीमा देवी,रूपा देवी,रूमी देवी,बेबी देवी,निशा देवी, प्रीति कुमारी ने कामना किया।