भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की ओर से पूरे राज्य में धरना 28 को : महेंद्र पाठक 

रामगढ़: आज भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय परिषद के सदस्य सह राज्य के सहायक सचिव महेंद्र पाठक ने प्रेस बयान जारी कर कहा है कि 23 मार्च से ही पूरे देश में कोरोना महामारी को लेकर लॉक डाउन है । लॉक डाउन उसी तरह से घोषित किया गया प्रधानमंत्री के द्वारा जिस तरह से नोटबंदी एकाएक घोषित किया गया था । जिससे करोड़ों लोग प्रभावित हुए थे । आज लॉक डाउन के कारण राज्य के 700000 मजदूर दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं । केंद्र सरकार किसी भी तरह की कोई गाइडलाइन राज्य सरकार को मजदूरों को लाने के लिए नहीं दे रही है । और झारखंड के साथ भेद भाव कर रही है , साथ ही सरकार के द्वारा घोषित योजनाएं भी धरातल पर नहीं उतर पा रहा है । राज्य में भूखमरी की स्थिति कायम है ,इसीलिए झारखंड राज्य के सभी शाखाओं में सोशल डिस्टेंशन को पालन करते हुए सभी साथी दिनांक 28 अप्रैल 2020 को अपने अपने घरों में ,पार्टी दफ्तरों में, या सुविधा अनुसार अपने जगह पर धरना के माध्यम से प्रधानमंत्री को मुख्यमंत्री के माध्यम से ज्ञापन भेजेंगे कामरेड महेंद्र पाठक ने कहा कि निम्नलिखित मांगों के समर्थन में जिसमें माननीय प्रधानमंत्री जी मन की बात की जगह जन की बात कीजिए । असंगठित क्षेत्र के बेरोजगारों को लॉक डाउन की पीरियड में 10000 प्रतिमाह गुजारा भत्ता दिया जाए ,
दुसरे राज्यो मे फसे प्रवासी मजदूरों को लाने के लिए राज्य सरकार को निर्देशित करें ।
आपके द्वारा घोषित जन उपयोगी योजनाओं को धरातल पर उतारने के लिए सर्वदलीय एवं सामाजिक संगठनों को मिलाकर निगरानी समिति बनाई जाए।
प्रवासी मजदूर जो राज्य के बाहर फंसे हैं उनको हर तरह की सुविधाएं मुहैया कराई जाए । .सभी लोगों को जरूरत की समान आवश्यक वस्तुओँ को घरों पर भेजने की गारंटी करें । जन वितरण प्रणाली की दुकानों से आवश्यक वस्तुओं का सही से वितरण जरूरतमंद लोगों को हो इसके लिए सर्वदलीय निगरानी समिति गठित की जाए। मध्यम वर्ग के लोगों को भी आवश्यक सामग्री देने की गारंटी करें।
महामारी के इलाज मे लगे डॉक्टर्स,लौक डाउन को सफल बनाने मे लगे पुलिस कर्मी, सफाई कर्मी , मीडिया कर्मी, समाजिक संगठनों , राजनीतिक दलों के इन सभी को सरकार सुरक्षा की गारंटी करें।
आदि कई मांगों को लेकर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी झारखंड राज्य परिषद की ओर से राज्य के सभी जिलों के सभी शाखाओं ,पंचायतों में सोशल डिस्टेंशन को पालन करते हुए पार्टी के सभी कार्यकर्ता अपने-अपने घरों में झंडा बैनर के साथ 11:00 बजे से लेकर के 1:00 बजे तक धरना देंगे और संबंधित मांग पत्र प्रधानमंत्री के नाम से मुख्यमंत्री को समर्पित करेंगे ।इसे सफल बनाने के लिए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी , अखिल भारतीय किसान सभा ,ऑल इंडिया यूथ फेडरेशन, ऑल इंडिया स्टूडेंट फेडरेशन एवं मजदूर यूनियन के लोग साथ ही राज्य कार्यकारिणी एवं राज्य परिषद के सभी साथी अपने अपने तरीके से तैयारी लगे हुए हैं।
महेन्द्र पाठक ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लोग सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए राज्य सरकार को मदद करने के बजाय घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं ।उनकी उपवास सिर्फ नौटंकी था ।