बिरहोर परिवारों के बीच अधिकारियों ने किया राहत सामग्रियों का वितरण

चतरा। सदर प्रखंड के डाढ़ा पंचायत स्थित सेहदा गांव में निवास करने वाले आदिम जन जाति के बिरहोर परिवारों के बीच 4 अप्रैल को राहत सामग्रियों का वितरण उपायुक्त जितेंद्र कुमार सिंह व उप विकास आयुक्त मुरली मनोहर प्रसाद के द्वारा किया गया। अधिकारियों ने शारीरिक दूरियों का खयाल रखते हुए गांव में निवास करने वाले बिरहोर परिवारों को राहत सामग्रियों का पैकेट उनके बीच वितरण किया। इस क्रम में डीसी ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से निबटने के लिए सभी का सार्थक सहयोग अपेक्षित है। लॉक डाउन का ख्याल रखे और अपने-अपने घरों में रहें। डीसी ने यह भी कहा कि शारीरिक दूरियां बना कर रहें। घर से बाहर निकले, तो हाथ को साबुन से जरूर धोए। उन्होंने आगे कहा कि लॉक डाउन में घबराने की जरूरत नहीं है। जिला प्रशासन उनके बीच खाद्य सामग्रियों का समय-समय पर वितरण करते रहेगा। उपायुक्त ने भरोसा जताया कि आपदा की इस घड़ी में उन्हें किसी भी प्रकार की चिंता करने अथवा घबराने की आवश्यकता नहीं है। जिला प्रशासन सहायता के लिए प्रतिबद्ध है एवं हर संभव प्रयास में जुटा हुआ है। लोगों को दो किलो चूड़ा, आधा किलो चना एवं आधा किलो गुड़ का पैक दिया गया है। उक्त पैकेट जिले के दो हजार जरूरतमंद परिवारों के बीच बांटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि आकस्मिक खाद्यान्न कोष से निःशुल्क दस किलोग्राम चावल दिया जा रहा है। नगरपालिका कार्यालय एवं ग्राम पंचायत के मुखिया द्वारा आकस्मिक खाद्यान्न कोष की राशि से यह कार्य किया जा रहा है। यह लाभ वैसे लाभुकों को दिया जा रहा है, जो निर्धन एवं असहाय हैं, वैसे व्यक्ति जो स्वयं तथा उनके साथ रहने वाला कोई भी पारिवारिक सदस्य जीविकोपार्जन करने में असमर्थ हों और साथ हीं राशन कार्ड भी नहीं बना हो। मौके पर मुख्य रूप से बीडीओ रंथु महतो, अंचलाधिकारी यामुन रविदास, थाना प्रभारी प्रमोद पांडेय आदि उपस्थित थे।