अड़की में संचालति कल्याण अस्पताल को बंद होने से बचाने के लिए मनोज की अगुवाई में डीसी से मिला भाजपा का प्रतिनिधिमंडल

खूंटीः खूँटी जिले के अड़की प्रखण्ड स्थित दीपक फाउंडेशन द्वारा संचालित कल्याण अस्पताल के लचर व्यवस्था पर क्षेत्र के स्वास्थ्य सुविधा की स्थिति खराब हो जाने पर आज सांसद के जिला प्रतिनिधि मनोज कुमार की अगुवाई में ग्रामीण क्षेत्रों के प्रतिनिधि मंडल ने उपायुक्त शशि रंजन से मुलाकात कर इसे बंद होने से बचाने के लिए ज्ञापन सौंपा। सांसद के जिला प्रतिनिधि मनोज कुमार ने बताया कि भगवान बिरसा मुंडा के जन्मभूमि प्रखंड क्षेत्र अड़की कल्याण अस्पताल के संचालन लिए राज्य सरकार के द्वारा स्वास्थ्य मद व्यवस्था नहीं देने के कारण अब बंद होने के कगार पर है। जिस अस्पताल से सुदूरवर्ती जनजातीय बहुल क्षेत्र के गरीब ग्रामीणों का स्वास्थ्य जांच व उपचार करने में अब बाधित होने लगा है। राज्य सरकार के द्वारा राशि मुहैया नहीं कराए जाने पर संस्था द्वारा अस्पताल के कर्मचारियों और चिकित्सकों को छुट्टी के लिए पत्र निर्गत करा चुकी है। जो 15 जुलाई तक ही अस्पताल में कर्मी और और चिकित्सक रह पाएंगे। इसके बाद यह अस्पताल भवन मात्र रह जाएगा। इस अस्पताल के बंद हो जाने से सुदूरवर्ती क्षेत्रों के गरीब ग्रामीणों की स्वास्थ्य सुविधा का अभाव हो जाएगा। इस पर खूँटी जिला सांसद प्रतिनिधि मनोज कुमार ने उपायुक्त शशि रंजन को अड़की प्रखण्ड के सांसद प्रतिनिधि अनुप कुमार साहू, प्रखण्ड भाजपा अध्यक्ष मोती पातर और ग्राम प्रधान खुदीराम सिंह मुण्डा और शिवचरण सिंह मुण्डा के साथ प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात कर कल्याण अस्पताल की स्थिति से अवगत कराया। साथ ही ज्ञापन देकर इसे सुचारु रुप से संचालन के लिए आग्रह किया। इस दौरान सांसद प्रतिनिधि प्रखण्ड सांसद प्रतिनिधि ने बताया कि इस विकट स्थिति में स्वास्थ्य व्यवस्था प्रखण्ड क्षेत्र में नहीं होने से स्थिति नाजुक बनी हुई है। उन्होंने कहा कि यही एक इकलौता नजदीकी स्वास्थ्य सुविधा के नाम पर कल्याण अस्पताल है। जिसकी क्षेत्र को स्वास्थ्य सुविधा के नाम पर नितांत आवश्यकता है। क्षेत्रीय समाजसेवी सह भाजपा अध्यक्ष मोती पातर ने बताया कि जिला प्रशासन के द्वारा इस अस्पताल पर ध्यान देने की आवश्यकता है। नहीं तो गरीब ग्रामीणों को काल के गाल में जाने से कोई‌ नहीं रोक सकता है।