भाजपा जिला अध्यक्ष प्रवीण मेहता ने बंगाल में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग की

रामगढ़: बंगाल में लोकतंत्र बना ममता का खूनी लहूतंत्र के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ जगत प्रकाश नड्डा के आहृवान पर एवं प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश के दिशा निर्देशानुसार भाजपा रामगढ़ जिला के 13 मंडलों में जिला अध्यक्ष प्रवीण मेहता के नेतृत्व में डिजिटल प्लेटफार्म के माध्यम से सांकेतिक धरना प्रदर्शन कर बंगाल के टीएमसी गुंडों द्वारा जिस बर्बरता के साथ भाजपा कार्यकर्त्ताओं की हत्या की जा रही है। हमारे महिला सदस्यों के साथ पाशविक और घिनोनी हरकत कर हत्या कर दी जा रही,। भाजपा सपोर्टर के मकान और दुकान लुटी जा रही है। अाखिर किसके इशारे पर !
बंगाल चुनाव परिणाम के बाद जिस तरह से घृणा,आतंक,संत्रास एवं भय का जो वातावरण बनाया जा रहा है यह स्वस्थ लोकतंत्र के लिए खतरे की घंटी है । हम इस घटना की कड़ी से कड़ी निन्दा करते हैं और केंद्र सरकार से तुंरत हस्तक्षेप कर दोषियों को ओन द स्पॉट सज़ा देने की मांग करते हैं । सभी कार्यकर्ताओं ने धारा 356 का प्रयोग करते हुए राष्ट्रपति शासन लागू करने की जरूरत बताया ।
सभी कार्यकर्त्ता अपने आवास पर ही ममता बनर्जी के खिलाफ तख्ती जिसमें लिखा था “ममता बंगाल में हिंसा बंद करो” “ममता बनर्जी आपने लोकतंत्र को शर्मसार किया है” ममता बनर्जी भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या बंद करो” “ममता तेरी तानाशाही नहीं चलेगी” लेकर प्रर्दशन किया ।
मौके पर जिलाध्यक्ष प्रवीण मेहता ने कहा कि मानवता को पूरी तरह से तार तार करने वाली बंगाल की खूनी ममता सरकार के खिलाफ सांकेतिक धरना प्रदर्शन के माध्यम से मैं केंद्र सरकार से मांग करता हूं कि बंगाल में जल्द से जल्द राष्ट्रपति शासन लगाया जाए,ताकि हर रोज जिस तरीके से वहां बहन -बेटियों के इज्जत के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है वह अत्यन्त पीड़ादायक है और हमारे कार्यकर्त्ताओं का खून किया जा रहा है उसके खिलाफ केंद्र सरकार जल्द से जल्द कोई कार्रवाई करें ।
आंशिक डिजिटल धरना प्रदर्शन में जिला के सभी पदाधिकारी , प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य, प्रदेश मोर्चा के पदाधिकारी एवं कार्यकारिणी सदस्य, जिला के सभी मोर्चा के जिलाध्यक्ष , जिला के पदाधिकारी, मंडल अध्यक्ष मंडल के पदाधिकारी , बीस सुत्री के पूर्व पदाधिकारी, पूर्व सांसद प्रतिनिधि सहित कई वरिष्ठ नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने शामिल होकर अपना विरोध दर्ज कराया ।