भाजपा के लिए राष्ट्रहित, जनहित और राष्ट्रनीति सर्वोपरि : अन्नपूर्णा देवी

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय
बरही:गरीबों को नवंबर तक मुफ्त अनाज यह मोदी है तभी मुमकिन है ।कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी ने बुधवार को बरही विधानसभा क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ताओं को वर्चुअल रैली के माध्यम से संबोधित किया। रैली को संबोधित करते हुए अन्नपूर्णा देवी ने बरही विधानसभा के कार्यकर्ताओं द्वारा कोरोना संकटकाल के बीच किए गए सेवा कार्यों कि प्रशंसा करते हुए कहा की बरही विधानसभा के पार्टी कार्यकर्ताओं ने सेवा एवं पूरे समर्पण के साथ जरूरतमंदों की मदद की। उन्होने कहा कि भाजपा की राजनीति जनता समाज और देश के लिए है। भाजपा के लिए राष्ट्रहित, जनहित और राष्ट्रनीति सर्वोपरि है। यही वजह है कि मोदी 2 कार्यकाल के एक वर्ष मे जीतने भी निर्णय हुए है वह राष्ट्रहित, जनहित और राष्ट्रनीति को ध्यान मे रखकर लिया गया है। कहा कि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष भी ऐतिहासिक और साहसिक उपलब्धियों से भरा रहा है। इस दौरान सदियों से लटके कई महत्वपूर्ण निर्णय हुए हैं। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए लोकल फॉर वोकल का नारा दिये हैं। आत्मनिर्भर भारत योजना देश के आर्थिक स्वावलंबन के लिए है। उन्होंने कहा कि पिछले एक साल में मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 को समाप्त कर इसे भारत का अभिन्न अंग बनाया। वहीं मुस्लिम बहनों के लिए अभिशाप बने ट्रिपल तलाक को गैरकानूनी बनाकर सभी मुस्लिम मां बहनों को सम्मान के साथ जीने का अवसर दिया। देश के असंख्य लोगों की आस्था से जुड़े भगवान श्री राम के भव्य मंदिर के निर्माण का रास्ता भी मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान ही खुल पाया। इसके अलावा धार्मिक रूप से प्रताड़ित लोगों के लिए सीएए के तहत भारत में शरण देने का मार्ग प्रशस्त किया।
अन्नपूर्णा देवी ने कहा कि कोरोना के दौरान भी केंद्र सरकार के नेतृत्व मे भारत ने दुनिया को राह दिखाई है। देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रधानमंत्री जी ने 20 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का आर्थिक पैकेज घोषित कराया, जो रोजगार, कृषि, युवाओं, महिलाओं के लिए सहायक साबित हो रहा है। लॉक डाउन के दौरान 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को 5 माह का अनाज निशुल्क उपलब्ध कराया जा रहा है। मंगलवार को ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार नवंबर महीने तक करने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री का यह निर्णय गरीब भाई-बहनों के सामने कोरोना संकट से उपजे जीविका के समाधान की दिशा मे एक महत्वपूर्ण निर्णय है। इस योजना के विस्तार से 90 हजार करोड़ ज्यादा खर्च होंगे। यह कारी मोदी है तभी मुमकिन है। कहा कि स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं के खाते में 500 रुपये प्रतिमाह के हिसाब से 1500 रुपये, किसानों के खाते में किसान सम्मान निधि का 2000 रुपये भेजे जा चुके हैं। 8 करोड़ महिलाओं को तीन गैस सिलेंडर निशुल्क दिए गए। मोदी जी के नेतृत्व में स्वदेशी को बढ़ावा दिया जा रहा है। वोकल फॉर लोकल नारे के साथ देश में स्थानीय उत्पादों की खरीद को बढ़ावा दिया जा रहा है। ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती देने मे वोकल फॉर लोकल मील का पत्थर साबित होगा। पिछले छह वर्ष के दौरान देश की सुरक्षा के लिए सर्जिकल और एयर स्ट्राइक हो मोदी सरकार ने देश की सुरक्षा से समझौता नहीं किया। इसी प्रकार वन नेशन वन टैक्स के तहत पूरे देश में जीएसटी लागू कराया नौजवानों के लिए मुद्रा लोन, स्टार्टअप और स्टैंड अप इंडिया योजना शुरू की गई। हर घर तक जल पहुंचाने के लिए जल शक्ति मंत्रालय का गठन किया गया। हाल ही में एक देश एक राशन कार्ड की घोषणा की गई, जिसके तहत कोई भी व्यक्ति देश के किसी भी कोने में अपने राशन कार्ड से राशन ले सकेगा। कहा कि एमएसएमई के क्षेत्र को मजबूती प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत पैकेज से साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये की व्यवस्था की है। कोरोना महामारी के दौरान इस क्षेत्र के छोटे-छोटे उधयोगों को कार्यशील पूंजी की व्यवस्था की जा रही है। 200 करोड़ की निविदा के लिए कोई वैश्विक निविदा नहीं होगी। साफ है कि स्थानीय लोगों को इसका ज्यादा से ज्यादा फायदा मिलेगा। इसी तरह मोदी सरकार ने रेहड़ी पटरी वालों की भी सुध ली है। उन्हें भी अपने व्यवसाय को फिर से खड़ा करने के लिए आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने की योजना पेश की है। बिजली वितरण व्यवस्था को मजबूती प्रदान करने के लिए 90 हजार करोड़ रुपये की व्यवस्था की गयी है। रोजगार को बढ़ावा देने के लिए मनरेगा की राशि को 60 हजार करोड़ से बढ़ाकर एक लाख करोड़ रुपये किया गया है। कहा कि अब वह दिन दूर नहीं जब भारत आत्मनिर्भर और स्वावलंबी बन सकेगा। रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य जैसे क्षेत्रों मे सभी के लिए समान अवसर उपलब्ध कराये गए हैं।