तरबूज का उठाव नहीं होने से भाजपा ने राज्य सरकार पर साधा निशाना

खूंटी: खूंटी जिले में इस बार तरबूज की बम्फर पैदावार से किसान बेहद उत्साहित थे लेकिन कोरोना और लॉक डाउन की दोहरी मार से किसानों के तरबूज के खरीददार नहीं मिल रहे हैं ऐसे में खूंटी में राजनीति भी गर्म होती नजर आ रही है।

केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के सांसद जिला प्रतिनिधि मनोज कुमार ने कृषि मंत्री समेत राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यह सरकार किसानों को यदि राहत पैकेज नहीं देती है तो झारखंड के किसान वर्त्तमान सरकार को उखाड़ फेंकने का काम करेंगे। साथ ही उन्होंने कृषि मंत्री बादल पत्रलेख पर भी सीधा हमला किया है। कहा कि कृषि मंत्री E-NAAM पोर्टल के माध्यम से किसानों के कृषि उपजों को बाजार व्यवस्था दिलाने की बात पिछले साल से करती आ रही है लेकिन साढ़े पांच हजार एकड़ में बड़े पैमाने पर तरबूज की खेती करने वाले खूंटी के किसानों को इसका कोई लाभ नहीं मिल रहा है। सरकार का E-NAAM पोर्टल कहां है क्या काम हो रहा है कोई अता पता नहीं है। खूंटी में किसानो को तरबूज की खेती का उचित मूल्य नहीं मिल रहा है। महंगे दाम पर खरीदे गए बीज, खाद, कीटनाशक की लागत मूल्य भी किसानों को नहीं मिल रही है ऐसे में किसान क्या करेंगे। राज्य सरकार किसानों के साथ छलावा कर रही है ऐसी सरकार को किसान सत्ता से जल्द बेदखल करेंगे।