बाईपास रोड गुमला जिले के मुख्य पथों में से एक है, इसका निर्माण होना अति महत्वपूर्ण है : उपायुक्त

गुमला बाईपास रोड से संबंधित कार्यों की प्रगति की समीक्षा हेतु बैठक संपन्न

: 05 माइनर ब्रिज के विंग वॉल का कार्य अविलंब प्रारंभ करें- उपायुक्त

गुमला : उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में गुमला बाईपास रोड से संबंधित कार्यों की प्रगति की समीक्षा हेतु बैठक आईटीडीए भवन स्थित उपायुक्त के कार्यालय कक्ष में की गई।

समीक्षा के क्रम में बाईपास रोड के 05 माइनर ब्रिज पर विंग वॉल का कार्य अबतक संवेदक द्वारा प्रारंभ नहीं किए जाने तथा विंग वॉल नहीं बनने के कारण बड़े एवं छोटे वाहनों के आवागमन बाधित होने की समस्या पाई गई। कार्य के अपूर्ण होने के विषय में संवेदक द्वारा लंबित विपत्र के भुगतान को कारण बताया। इसपर उपायुक्त ने संवेदक को माइनर ब्रिज के निर्माण में आवश्यकतानुसार अभियंताओं को संलग्न करते हुए गुणवत्तापूर्ण कार्य सुनिश्चित करने पर जोर दिया। इसके साथ ही उन्होंने विंग वॉल निर्माण हेतु समयसीमा का निर्धारण कर उक्त समयसीमा के अंदर निर्माण कार्य प्रारंभ करने का निर्देश दिया। उन्होंने कार्य प्रांरभ नहीं करने पर संवेदक के विरूद्ध कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया।

बैठक में मेजर ब्रिज की रूपरेखा के विषय में बताया गया कि निर्माण हेतु उपयुक्त रूपरेखा एवं आरेखण तैयार कर लिया गया है तथा उक्त रूपरेखा एवं आरेखण के आधार पर मेजर ब्रिज का निर्माण किया जाएगा।

उपायुक्त ने बाईपास रोड निर्माण के संबध में कहा कि बाईपास रोड गुमला जिले के मुख्य पथों में से एक है। जिसका निर्माण अबतक नहीं होने के कारण बाजार-हाट वाले दिनों (मंगलवार/ शनिवार) में अक्सर वाहनों की लंबी कतार लग जाती है। जिससे वाहनों की आवाजाही भी प्रभावित होती है। अतः बाईपास रोड का निर्माण होना अति महत्वपूर्ण है। इस निमित्त बाइपास रोड के माइनर ब्रिज एवं मेजर बिर्ज का निर्माण कार्य यथाशीघ्र प्रारंभ करने पर विशेष बल दिया।

उपस्थिति
बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा सहित कार्यपालक अभियंता राष्ट्रीय उच्च पथ, राष्ट्रीय उच्च पथ सहायक अभियंता/ कनीय अभियंता, बाईपास रोड के संवेदक संदीप व अन्य उपस्थित थे।