कैंसर पीड़ित शिव सागर ने सांसद से मदद की लगाई गुहार, पर कही से नही मिला मदद

कहा जीने के लिए यथा संभव करें मदद

संवाददाता चौपारण

चौपारण (हजारीबाग): प्रखंड के पड़रिया पंचायत के ग्राम बनउ निवासी शिव सागर राणा पिता स्व काली राणा उम्र 25 वर्ष ब्लड कैंसर बीमारी से पीड़ित है। गरीबी एवं लाचारी के कारण समुचित इलाज से वंचित है। उन्होंने सांसद सह पूर्व केंद्रीय वित्तराज्य सह उड्डयन मंत्री जयंत सिन्हा, विधायक सह निवेदन समिति सभापति उमाशंकर अकेला, जिला उपायुक्त, बरही एसडीओ, बीडीओ, सीओ, मुखिया सह प्रधान जनप्रतिनिधि एवं सक्षम आमजनों से गुहार लगाया। है

कोई मशीहा की हैं तलाश जो पूरा कर सके ईलाज

कहा कोई भी प्रतिनिधि अबतक कोई सुध भी नही लिए ना ही मदद मिल सका आज इस आशा में है कि कोई मशीहा बन कर आये और मददगार बने।वही बताया कि डेढ़ माह पूर्व मेरी माँ का चौपारण केंदुआ मोड़ में एक्सीडेंट में एक पैर गवाना पड़ा राँची में इलाज के दौरान एक पैर भी काटना पड़ा।कहा कि जीने के लिए यथा संभव मदद करें। गरीबों की मसीहा कहे जाने वाले और लोगों की मदद करने वाले शिव सागर राणा आज सुबह दूसरे की मदद की आस में जी रहा हैं,लोगों की मदद करने वाला शिवसागर आज आज खुद दूसरे की मदद की आस में जी रहा है एक समय मार्खाम कॉलेज हजारीबाग में एबीवीपी अध्यक्ष पद पर रहा शिव सागर राणा आज जिंदगी और मौत के बीच ब्लड कैंसर से जूझ रहा है आज लोगों की मदद की आवश्यकता है ताकि शिव सागर राणा दोबारा से हम लोगों के बीच आ सके । मुंबई टाटा कैंसर हॉस्पिटल के डॉक्टरों का कहना है, कि अगर शिव सागर राणा का बोन मैरो ट्रांसप्लांट कर दिया जाए तो और हमेशा के लिए ठीक हो सकता है जिसका खर्च करीबन 30 लाख रुपया आएगा ।