कसमार मे बच्चे का अपहरण कर भाग रहे युवक को दबोचा

बोकारो से जय सिन्हा

कसमार: कसमार थाना क्षेत्र अंतर्गत मंजूरा के लहरिया टांड़ निवासी संदीप कुमार के चार वर्षीय पुत्र रंजन कुमार को के अपहरण कर ले भागने का एक मामला प्रकाश में आया है।
ग्रामीणों एवं परिजनों ने मौके पर पीछा कर बच्चे को आरोपी के चंगुल से छुड़ा लिया और आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया है।
आरोपी की पहचान भुरकुंडा तीन नंबर निवासी कैलाश नायक के रूप में हुई है। कसमार पुलिस के अनुसार आरोपी अर्द्धविक्षिप्त है।
परिजनों ने बताया कि रंजन अपनी 6 वर्षीय बहन रेखा के साथ सड़क किनारे शौच करने गया था। इसी बीच कसमार से खैराचातर की ओर जा रहे एक ऑटो पर सवार एक व्यक्ति ऑटो से कूद पड़ा और रंजन को दबोच कर भागने लगा।
उसकी बहन रेखा के रोने-चीखने और हो-हल्ला मचाने के बाद परिजनों एवं ग्रामीणों को इसकी जानकारी मिली और आरोपी का पीछा करना शुरू किया। इस दौरान आरोपी ने ग्रामीणों के बीच मारपीट व झड़प भी की। अंतत: ग्रामीणों ने उसे घेरकर उसके चंगुल से बच्चे को छुड़ा लिया।
सूचना पाकर कसमार पुलिस मौके पर पहुंची एवं आरोपी कैलाश नायक को थाना ले गई। बताया गया कि मंजूरा पंचायत के ही झरमुंगा गांव में शंभू नायक के घर आरोपी का ससुराल है। उसे शंभू नायक एवं बाघमारा निवासी अघनु महतो ने झाड़-फूंक के लिए यहां लाया था। कसमार पुलिस ने बताया की आरोपी की मानसिक अवस्था ठीक नहीं है। इसी कारण उसने इस तरह की हरकत की है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। बच्चे को सकुशल उसके परिजनों को सौंप दिया गया है।