चाईबासा पुलिस-प्रशासन तमाम पश्चिमी सिंहभूम जिला वासियों दिया रमज़ान की मुबारकबाद

रमज़ान अपने-अपने घरों में रहकर सामाजिक दूरी का पालन करते हुए अपने परिवार के साथ ही सद्भावपूर्वक मनाएं: इंद्रजीत महथा
रामगोपाल जेना
चाईबासा: पुलिस अधीक्षक श्री इंद्रजीत महथा ने वीडियो संदेश में कहा कि आज से रमज़ान का पवित्र महीना शुरू हो गया है। चाईबासा पुलिस-प्रशासन तमाम पश्चिमी सिंहभूम जिला वासियों को रमज़ान की मुबारकबाद देता है। साथ ही जिला प्रशासन यह अपील करता है कि रमज़ान के पाक महीने के दौरान सहरी, तरावीह या पांचों वक्त की नमाज़ को घर पर ही अदा करें। इसके लिए मस्जिद में आने से परहेज़ करें। लॉक डाउन के संदर्भ में गृह मंत्रालय का निर्देश है कि धार्मिक स्थल आमजन के लिए बंद रहेंगे। साथ ही साथ धार्मिक आयोजन और धार्मिक कार्यक्रमों पर भी प्रतिबंध रखा गया है। सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों का पूरी तरह से अनुपालन करने के लिए आवश्यक है कि सभी तरह की नमाज़ घर पर ही अदा की जाए।

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि रोज़ा खोलने का कार्य घर पर ही किया जाए। रोज़ा खोलने के लिए घर के बाहर चौक-चौराहे पर आने या मुबारकबाद देने के लिए भी चौक चौराहे पर आने से बचें। सभी तरह के सामूहिक धार्मिक आयोजनों पर रोक है, इफ़्तार की पार्टी आयोजित ना की जाए, इफ़्तार की पार्टी में जाने से भी बचा जाए। रोज़ा को घर में ही खोलें।

चाईबासा पुलिस-प्रशासन आपके सहयोग के लिए साथ खड़ा है
आरक्षी अधीक्षक ने कहा कि चाईबासा पुलिस प्रशासन पूरी तरह से आपके साथ सहयोग के लिए खड़ा है। रोजमर्रा की जरूरतों के लिए जिला आपूर्ति विभाग और जिला प्रशासन की तरफ से पर्याप्त तैयारियां की गई हैं। सभी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति हो रही है। दुकानें भी खुली हुई हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपनी खरीददारी कर सकते हैं। आपको पूरा सहयोग किया जाएगा लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग और फेस मास्क का उपयोग करके ही कोई कार्रवाई करनी है।

श्री इंद्रजीत महथा ने कहा कि इस संदर्भ में सभी धार्मिक नेता, मस्जिदों के इमाम और सदर से जिला प्रशासन द्वारा पूर्व में ही संवाद किया जा चुका है और शांति समिति के सदस्यों से भी संवाद किया जा चुका है। हमें पूरी तरह से यह उम्मीद और विश्वास है कि रमज़ान के पाक महीने में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ निर्देशों का निर्वाह करेंगे और जिला पुलिस प्रशासन का समर्थन और सहयोग करते हुए पश्चिमी सिंहभूम को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित जिला बनाएंगे।