अचानक से महिलामय हुआ चास नगर निगम क्षेत्र

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: राज्य निर्वाचन के एक फैसले के बाद अचानक से चास नगर निगम क्षेत्र में महिला नेत्रियों की जैसी बाढ़ सी आ गई है। हर गली मोहल्ले से अब चास नगर निगम के मेयर पद के दौड़ में समाजसेवियों ने अपनी पत्नी या फिर घर की किसी महिला सदस्य के नाम का दावा मेयर पद पर ठोक दिया है। राज्य निर्वाचन आयोग ने अपने आदेश में चास नगरनिगम का मेयर पद महिलाओं के लिए आरक्षित घोषित कर दिया है। आज बोकारो कांग्रेस के सक्रिय सदस्य जमील अख्तर ने अपनी पत्नी शबाना परवीन के नाम आगे करते हुए मेयर पद के लिए उनकी उम्मीदवारी की घोषणा कर दी है। ऐसे हालत में चास के वोटरों के सामने असमंजस की स्तिथी का सामना करना पड़ रहा है। वैसे अभीतक 10 नाम चास की जनता के सामने आ चुकी जिसमे 7 से ज्यादा महिलाओं का नाम वोटर सुने भी नही है समाजसेवा की बात तो दूर, खैर आने वाले समय मे अभी और ऐसे कई नाम सामने आएंगे जो सबको चौकने को मज़बूर करेगा। बहरहाल इतना तो सहज ही कह सकते है कि इसबार चास नगर निगम के संभावित चुनाव में उम्मीदवारों के कई रंग देखने को मिलेगे।