वन विभाग में नौकरी के नाम पर ठगी: जालसाजों ने फर्जी नियुक्ति पत्र देकर राजस्थान से एक युवक को भेज दिया बरही

राजस्थान से बरही पहुंचा युवक तब हुआ अचंभित

संवाददाता बरही
बरही (हजारीबाग) : राजस्थान का रहने वाला एक युवक को वन विभाग में नौकरी दिलवाने के नाम पर राजस्थान के ही एक गिरोह द्वारा ठगी का शिकार बनाये जाने का मामला प्रकाश में आया है। बताया जाता है कि राजस्थान के भरतपुर जिला के नदबई का एक बेरोजगार युवक देवेंद्र कुमार शर्मा (पिता राम निवास शर्मा) को ठगों ने बरही वन विभाग में नौकरी करने के लिए फर्जी नियुक्ति पत्र देकर राजस्थान से बरही भेज दिया। जब वह राजस्थान से बरही वन विभाग कार्यालय पहुंचा तो पता चला कि उसकी नियुक्ति पत्र फर्जी है। व्हाट्सएप में जिसके द्वारा फर्जी नियुक्ति पत्र भेजा गया था उससे संपर्क करने की कोशिश की तो स्विच ऑफ पाया गया। जानकारी के अनुसार राजस्थान के भरतपुर जिला के नदबई निवासी देवेंद्र कुमार शर्मा पिता राम निवास शर्मा को उसके गांव से ही ठगी गिरोह के एक एजेंट द्वारा पता चला कि वन विभाग में नौकरी का पद हजारीबाग जिला के बरही वन विभाग में खाली है। वह मोबाइल फोन से दलाल से संपर्क करते हुए पिछले 21 जून को हजारीबाग पहुंच कर चार से पांच दिनों तक वहां रुका। जिसके बाद उन्हें फर्जी नियुक्ति पत्र देकर बरही वन विभाग अंतर्गत पदमा के दूरस्थ हारम्बार के जंगलों में काम करने को कहा गया। ठगी गिरोह द्वारा हारम्बार के जंगलों में बना एक भवन को वन विभाग का भवन बताकर झांसे में लेकर उनके परिजनों से रकम की मांग कर रहे थे। लेकिन देवेंद्र कुमार शर्मा को कुछ शक हुआ और वह किसी तरह से बरही वन विभाग कार्यालय आ पहुंच कर वन विभाग के कर्मियों से संपर्क किया। जिसके बाद पूरा मामला प्रकाश में आया। बरही वन विभाग के कर्मी महेश दास ने जानकारी देते हुए बताया कि उक्त युवक के बातो से प्रतीत होता है कि यह ठगी गिरोह का शिकार हुआ है, जिसका सारा फर्जी दस्तावेज लेकर उसे उसके घर जाने का निर्देश दे दिया गया है। इधर वन प्रक्षेत्र पदाधिकारी गोरख राम ने जानकारी देते हुए बताया कि फर्जी कागजात देकर युवकों को ठगने का प्रयास किया जा रहा है। वह अपने स्तर से पूरे मामले को देख रहे है। ठगी का शिकार बना युवक को कहा गया कि वह इस मामले को थाने में लेकर जाएं किंतु वह थाना नहीं गया, वापस राजस्थान लौट गया।