छठ घाट सज धजकर तैयार, पहला अर्घ्य आज

रजरप्पा कोयलांचल में छठव्रतियों ने किया खरना, प्रसाद पाने वालों की उमड़ी रही भीड़
रजरप्पा(रामगढ़): लोक आस्था के चार दिवसीय महापर्व छठ के दूसरे दिन मंगलवार को व्रतियों ने पूरे नियम व आस्था के साथ खरना किया। खरना को लेकर शाम में छठव्रतियों ने क्षेत्र के विभिन्न नदी व तालाबों में जाकर स्नान किया। इसके बाद घरों में आकर खरना का प्रसाद बनाया। व्रतियों ने घरों में पूरी पवित्रता के साथ आम की लकड़ी से मिट्टी के चूल्हे पर गुड़ की खीर व रोटी बनाकर प्रसाद के रूप में सेवन किया। इस दौरान घर में महिलाओं ने छठ गीत गया, जिससे वातावरण भक्तिमय हो गया। परंपरागत छठ गीतों से घर से लेकर बाजार तक भक्ति की अविरल धारा बह रही है। छठव्रती बुधवार को अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को घाट पर बांस के सूप पर फल – फूल व पकवान से अर्ध्य अर्पित करेंगे। इसके बाद चौथे दिन गुरुवार को उगते सूर्य को अर्ध्य देने के साथ यह महापर्व सम्पन्न हो जाएगा। इसके लिए तमाम छठ घाटों को सजाने संवारने का कार्य अंतिम चरण में है।