बद्री कॉलोनी के एकल विद्यालय में चलाया गया बाल अधिकार जागरूकता अभियान

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: आज बोकारो जिले के बद्री कॉलोनी बसंती मोड़ स्थित सेवा भारती द्वारा चलाए जा रहे एकल विद्यालय में डॉक्टर प्रभाकर कुमार के नेतृत्व में बाल अधिकार संरक्षण जागरूकता अभियान चलाया गया।

डॉ प्रभाकर कुमार ने बालक को कानून की भाषा में परिभाषित करते हुए बाल अधिकारों – जीने के अधिकार , विकास के अधिकार , सुरक्षा के अधिकार व सहभागिता के अधिकारों को उदाहरण व घटनाओं के साथ बतलाया । बाल विवाह , बाल श्रम , लिंग भेद , माता पिता के पूर्वाग्रह मानसिकता , जिले में बाल उत्पीड़न की घटनाओं , उनके प्रकारों पर प्रकाश डाला । साथ ही बाल विवाह आज बाल दुर्व्यापार से जुड़ चुका , कैसे मानव तस्कर अभिभावकों को गुमराह कर रहे । तमाम बाल मुद्दे पर बच्चे उनके अभिभावकों व समुदाय एव शिक्षक की किशोर न्याय अधिनियम में क्या भूमिका है , पोक्सो कानून , सुरक्षित स्पर्श असुरक्षित स्पर्श , संकट कालीन नो 1098 आदि की सविस्तार जानकारी दी , भूले भटके बच्चे , अनाथ बच्चे , गुमशुदा होने वाले बच्चे समेत बाल कानून , बच्चे के जिले में सभी हितधारकों के बारे में सविस्तार जानकारी दी गई ।

डॉ प्रभाकर ने कहा कि सुरक्षित भारत की संकल्पना तभी मूर्त हो पाएगी जब बच्चे सुरक्षित स्थिति में होंगे । उनके सभी अधिकारों की रक्षा उनके माता पिता अभिभावक समाज समुदाय सुनिश्चित करवा पाएं । जागरूकता अभियान लगातार कर बच्चे को समृद्ध व संवेदनशील बनाया जाना है । आज के जागरूकता अभियान में युवाओं में कृष्ण कांत तिवारी , ऋषभ कुमार एवं इंद्रजीत कुमार उपस्थित थे जिन्होंने बच्चे को कतार मे बिठा कर मास्क पहनाया गया साथ ही कोविड 19 के प्रोटोकॉल को सख्ती से पालन करने की जरूरत को समझाया।