कृषि कानून के खिलाफ कांग्रेस ने मनाया काला दिवस

खूंटी: झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के निर्देशानुसार खूंटी जिला कांग्रेस कमिटी ने भारतवर्ष के किसानों जो हमारे अन्नदाता हैं। वे तीनो काला कृषि कानूनों को रद्द करने के लिए विगत छ माह से सिंधुबार्डर पर आदोलनरत हैं। पर निरकुंश और निष्ठुर सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंग रहा। हमारे अन्नदाता भीषण गर्मी, 2 डिग्री तापमान ,वर्षा को झेलते हुए धरना स्थल पर बैठे है। और आज के दिन ब्लैक डे के रूप में मना रहे हैं। कांग्रेस ने उनका सर्मथन करते हुए तीनो काला कृषि कानूनों को तुरंत वापस लेने की मांग की है। इसी क्रम जिलाध्यक्ष रामकृष्णा चौधरी के निर्देश पर खूंटी जिला के कांग्रेस जन अपने बाहों पर काली पट्टी एंव घरों में काले झंडे लगाकर आंदोलन का समर्थन किया। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष राम कृष्ण चौधरी एवं प्रवक्ता ओम प्रकाश मिश्र ने कहा कि केन्द्र सरकार को समझना चाहिए कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है और जनता ही मालिक हैं। हमने जय जवान जय किसान का नारा दिया तो किसानों ने भारत को खाद्यान्न पैदा कर हरित क्रांति से देश को आत्मनिर्भर बना दिया। और आज उन्हीं को नजरअंदाज किया जा रहा है। सेठ साहुकारों की सरकार उन्हें न्यूनतम मूल्य भी गारंटी देने को तैयार नहीं हैं ।ऐसे निष्ठूर सरकार को एक मिनट भी सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है। हम केन्द्र सरकार से मांग करते हैं कि अविलम्ब तीनों कृषि कानूनों को वापस लिया जाए और नहीं तो आने वाले दिनों में परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहे। किसानों ने बता दिया है कि न उन्हें कोई डरा सकता है और न ही हिला सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *